गाँव में जंगल के फलों से अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाते हैं...

मारी पारा, ग्राम-पंचायत-कुकुरपाल, जिला-कोंडागांव, (छत्तीसगढ़ ) निरंजन कश्यप, बता रहे हैं कि वे अपने गाँव में धान,मक्का,बाजरा, अरहर की खेती कर रहे हैं| जिससे उन्हें फायदा मिलता है| वे सभी जंगल के फल चार, तेंदू, भेलवा, इमली, आम आदि लाते हैं| वे अपने जरुरत के हिसाब से घर में रखते हैं| बाकी सभी दैनिक खर्च पूर्ति हेतु बजार में बेच देते हैं| जिससे उन्हें धन राशि कि प्राप्ति होती है| गर्मी के दिनों में खेती नही करते हैं क्योंकि उनके पास पानी और संसाधनों कि कमी है| (161715)

Posted on: Jan 02, 2021. Tags: BABULAL NETI FOREST STORY

जंगल विभाग के सह्कर्तन में 2019-20 में काम किये हैं मजदूरी भुगतान नही हुआ...कृपया मदद करें

बड़े किलेपाल-1, ब्लाक-बास्तानार, जिला-बस्तर, (छत्तीसगढ़) से रामू राम पोयाम बता रहे हैं कि वे जंगल विभाग के सह्कर्तन में पौधे साफ-सफाई का काम 2019-20 में 3 दिन किया हैं जिसका मजदूरी भुगतान 15195 रूपये होना था, जिसमे उन्हें 2500रूपये मात्र दिए गये हैं, बाकी का भगतान अब तक नही हुआ है, करीब 13-14 लोग काम किये हैं, ये साथी कई बार सम्बंधित अधिकारियों के पास आवेदन किये हैं पर अब तक कोई सुनवाई नही हुआ है| इसलिए साथी सीजीनेट के सुनने वाले साथियों से मदद कि अपील कर रहे हैं कि दिए गये नम्बरों पर बात कर इस समस्या का समाधान करने में मदद करें|प्रबंधक@7489812897, वन परीक्षक अधिकारी@9406070890, संपर्क नम्बर@9424177428.(180240) MS

Posted on: Dec 25, 2020. Tags: FOREST RIGHT

15 साल से रह रहे है, गाँव में खेती करने से वन अधिकारी मना करते है, मजदूरी करके जीवन यापन करते हैं...

ग्राम-चिंतलगुंपु, पंचायत-जनापुरम, ब्लॉक-मुलकलपल्लि ,जिला-भद्रादी कोत्तगूडेम (तेलंगाना) से सोडी भीमे अपनी कोया गोंडी में बता रही हैं कि उनके गाँव में 16 घर है 15 साल की पहले से वहां रह रहे हैं, छत्तीसगढ़ से आये है, घर में 5 लोग रहते हैं, गाँव में खेती का काम करने से वन विभाग के अधिकारी मना करते है और खेती को जुताई नहीं करने देते है | इसलिए वे मजदूरी करके अपनी जीवन यापन कर रही हैं| संपर्क नंबर@9100338390. (169964) NM

Posted on: Jun 26, 2020. Tags: AGRICULTURE BHADRADI KOTTHEGUDEM TELANGANA FOREST SODY BHEEME

कृषक समृद्धि योजना अंतर्गत पौधारोपण किया गया था, 3 साल से भुगतान नहीं हुआ, कृपया मदद करें...

मानपुर, जिला-उमरिया (मध्यप्रदेश) से मोहम्मद खालिद अंसारी बता रहे हैं कि किसान समृद्धि योजना के अंतर्गत वन दूतों द्वारा 2017 और 2018 में पौधा रोपण कार्य कराया गया था, जिसके तहत एक साल 80 हज़ार और दूसरे साल 30 हज़ार पेड़ लगाए गए थे जिससे पूरे क्षेत्र में हरियाली का माहौल बना है | 2017 के कार्य की आंशिक राशि 15 रू प्रति वृक्ष दी गयी थी पर उसकी दूसरी किश्त 20 रू प्रति वृक्ष की दर से जो देना तय हुआ था वह अब तक नहीं दिया गया है जबकि तीन वर्ष हो चुके हैं और 2018 के पौधारोपण का कोई भुगतान नहीं किया गया है | कांग्रेस की सरकार ने यह कहा इस योजना को बंद कर दिया गया इसलिये वे सीजीनेट के माध्यम से सरकार से अपील कर रहे हैं, किसानो का रुका भुगतान करें और कृषक समृद्धि योजना का दोबारा से शुरू करें| संपर्क नंबर@7999442938/9893274850/
6264434308. (AR)

Posted on: Jun 21, 2020. Tags: FOREST KHALID ANSARI MP PAYMENT UMARIA

हम जंगल से बांस लाकर उससे जाल बनाते हैं फिर उससे मछली पकड़ते हैं, दरवाजे भी बनाते हैं...(माडिया में )

नगर पंचायत-भामरागड-जिला-गडचिरोली (महाराष्ट्र) से सोमू पुंगाटी जी बांस से क्या-क्या बनाते है अपनी उस कला के बारे में सनबती दुग्गा के साथ अपनी माड़िया गोंडी भाषा में बता रहे हैं: वे बोल रहे हैं कि कोईनी और टाटी जेंड जंगल से बांस लाकर बकिया से छीलकर पतले-पतले काटकर कोईनी बनाते हैं इसके बाद इसके अन्दर डालने के लिए कांटा बनाते हैं फिर दोनों को गूथकर कोईनी जाल बनाते हैं इसके बाद इसमें मछली पकड़ते हैं इसी प्रकार दरवाजे के लिए टाटी बनाते हैं इसी प्रकार वे और भी कई तरह की चीज बना सकते हैं (169889)  CS

Posted on: Jun 17, 2020. Tags: BAMBOO BHMRAGAD GADCHIROLI MH FOREST SOMU PUNGATI

View Older Reports »