Impact : शौचालय निर्माण की राशि दिलाने के लिये धन्यवाद...

ग्राम-सरई माल, जिला-डिंडोरी (मध्यप्रदेश) से विमल दास बता रहे हैं कि शौचालय
निर्माण की राशि उन्हें नहीं मिली थी, जिस समस्या को उन्होंने सीजीनेट में रिकॉर्ड किया था जिसके 10 दिन बाद उनको पैसा मिल गया है इसलिये वे मदद करने वाले सभी श्रोताओं को धन्यवाद दे रहे हैं: संपर्क नंबर@7746997904. (AR)

Posted on: Jul 05, 2020. Tags: DINDORI IMPACT STORY MP SANTOSH AHIRWAR

किसान से खेती पर चर्चा...

ग्राम-माकड़ी, जिला-कोंडागांव (छत्तीसगढ़) से दिनेश कुमार मौर्य बता रहे हैं, वे किसान हैं और कई पीढ़ियों से ये काम कर रहे हैं, पहले के समय में खेती में जोताई के लिये बैल
और हल उपयोग करते थे लेकिन अब बैल और ट्रेक्टर दोनों साधनों का उपयोग करते हैं, धान और मक्का की फसल उगाते हैं, खाद के लिये जैविक खाद का उपयोग करते हैं, राशायानिक खाद का उपयोग नहीं करते हैं, फसल तैयार होने के बाद जितना घर के लिये आवश्यक है रखते हैं बाकि को बाजार में बेच देते हैं| (AR)

Posted on: Jul 05, 2020. Tags: CG DINESH MAURYA KONDAGAON STORY

Impact : हैण्डपंप बनवाने के लिये संदेश रिकॉर्ड किये थे, सुधार हो गया...

ग्राम-सरपाका, जिला-भद्रादी कोठागुडम (तेलंगाना) से राजेश कोमराम बता रहे हैं कि 19 मई 2019 को उन्होंने हैण्डपंप ख़राब होने की समस्या को सीजीनेट में रिकॉर्ड किया था, संदेश रिकॉर्ड करने के 10 दिन बाद हैण्डपंप का सुधार कर दिया गया है, इसलिये वे मदद करने वाले साथियों और अधिकारियों को धन्यवाद दे रहे हैं: संपर्क नंबर@9422300674. (AR)

Posted on: Jun 27, 2020. Tags: BHADRADI KOTHAGUDEM IMPACT STORY TELANGANA

हेलेन केलर के जन्म दिन पर संदेश...

दिल्ली से राजेश कुमार पाठक महान विदुषी हेलेन केलर के बारे में बता रह हैं, आज 27 जून के दिन को हेलेन केलर का जन्म हुआ था, वे देख नहीं सकती थी और सुन भी नहीं सकती थी, उसके बाद भी उन्होंने पढाई की और कई किताबे लिखी| वे उन सभी लोगो के लिये प्रेरणा हैं जो अपाहिज हैं| (AR)

Posted on: Jun 27, 2020. Tags: DELHI RAJESH PATHAK STORY

ऊंट और सियार की कहानी...

ग्राम-कुटानपानी, जिला-जशपुर (छत्तीसगढ़) से सूरदास पैकरा एक कहानी सुना रहे हैं:
एक सियार और एक ऊंट दोनों साथ रहते थे, एक बार दोनों गन्ने खाने के लिये तलास में गये, रास्ते में एक नदी पड़ा, तब शियार ने ऊंट से कहा मुझे पीठ पर बिठा लो जिससे वह नदी में न डूबे और दोनों उस पार जा सकें, उसके बाद दोनों गन्ने के बाड़ी में पहुंचे और गन्ना खाने लगे, गन्ना खाने के बाद शियार बोला खाने के बाद मै गाना गाता हूँ, ऊंट बोला शोर मत करो, शियार नहीं माना और उसकी आवाज सुनकर बाड़ी का मालिक आया और ऊंट की पिटाई हो गयी और शियार छुप गया, उसके बाद दोनों वहां से आ गये, वापस आते समय फिर नदी पड़ा शियार ऊंट पर बैठ गया और नदी पार करने लगे, तब ऊंट बोला मै मार खाने के बाद नहाता हूँ, शियर बोला नहीं मुझे ऊपर पहुंचा दो उसके बाद नाहा लेना, ऊंट नहीं माना और वह नहाने लगा, जिससे शियार डूबकर मर गया| (AR)

Posted on: Jun 27, 2020. Tags: CG JASHPUR STORY SURDAS PAIKARA

View Older Reports »