5.6.31 Welcome to CGNet Swara

स्वास्थ्य स्वर : आग से जलने पर लेप बनाने की घरेलू विधि-

मोतीनगर, रायपुर (छत्तीसगढ) से वैद्य एच डी गांधी आग से जल जाने पर लेप बनाने की घरेलू विधि बता रहे हैं, शहद 250ग्राम, नमक 100ग्राम, दोनो को मिलाकर तेज उबाल आने तक पकाएं, उसके बाद ठण्डा कर सुरक्षित एक शीशी में रख लें, फिर जले हुए स्थान पर रुई के मदद से तेल जैसा लगाएं, इससे जलन और छाले से आराम मिल सकता है, भोजन में मिर्च, मसाले, तेल, खटाई, गरिष्ठ भोजन, बैगन, मटर, चना, मसूर उड़द, मछली, गुड का प्रयोग न करें, संतुलित भोजन करें, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं : एच.डी. गाँधी@9111061399.

Posted on: Oct 17, 2018. Tags: CG HD GANDHI HEALTH RAIPUR SWARA SWASTHYA

आजा दुर्गे मैईया शेर पे सवार होके, इहे बात ललहक हमार...देवी भजन-

ग्राम-धुमाडांड, पोस्ट-गोविंदपुर, थाना-चंदोरा, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से शिवबालक सिंह एक देवी भजन सुना रहे हैं :
सांझे सुबेरवा मैईया दिन दुपहरिया मैईया-
राउरे दुअरिया पे जय जय गूंजेकार-
आजा दुर्गे मैईया शेर पे सवार होके, इहे बात ललहक हमार-
होवा संझिया मैईया दियाना जराई बईठल राउर चरणवा पे आई-
बड़ा निग लोग लागे ऊँची पहड़िया पे राउर मंदिरिया मैईया...

Posted on: Oct 17, 2018. Tags: BHAJAN CG PRATAPPUR SHIVEBALAK SINGH SURAJPUR

स्वास्थ्य स्वर : चक्कर आने या कमजोरी लगने पर घरेलू उपचार-

प्रयाग विहार, मोतीनगर, रायपुर (छत्तीसगढ़) वैद्य एच डी गांधी चक्कर आने या कमजोरी लगने पर घरेलू उपचार बता रहे हैं, ताजे आंवाले के फल 2 नग, धनिया के बीज दो चम्मच और एक कप पानी ले, उसके बाद आंवला फल के छोटे-छोटे टुकड़े कर लें और दो चम्मच धनिया दोनो को एक कप पानी में मिलाकर रातभर भिगोकर रखे, सुबह उस पानी को छानकर सुरक्षित रख ले और सुबह शाम सेवन करें, इससे लाभ हो सकता है, भोजन में तेल, मसाला, गरिष्ठ भोजन, नमक, मैदा का प्रयोग कम करें, नशा न करें, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं :
एच डी गांधी@7879751110.

Posted on: Oct 17, 2018. Tags: CG HD GANDHI HEALTH RAIPUR SWARA SWASTHYA

स्वास्थ्य स्वर : रक्त प्रदर या ल्यूकोरिया बीमारी को ठीक करने का घरेलू नुस्खा-

सेतगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी रक्त प्रदर या ल्यूकोरिया बीमारी को ठीक करने का घरेलू नुस्खा बता रहे हैं, अशोक की छाल को दरदरा कूट कर 10 से 20 ग्राम मात्रा एक गिलास दूध में मिलाकर उबालें और जब एक कप दूध बच जाए तो आधा कप दूध सुबह और आधा कप रात को सेवन करें, इससे समस्या में आराम मिल सकता है, अशोक के छाल में एक ग्राम दाल चीनी भी मिला सकते हैं, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं : रमाकांत सोनी@9589906028.

Posted on: Oct 17, 2018. Tags: CG HEALTH LIKORIA MUNGELI RAMAKANT SONI SWARA SWASTHYA

बिलक-बिलक कर माँ बुढ रोती रही....कविता-

ग्राम-तामनर, जिला-रायगढ़ (छतीसगढ़) से कन्हैयालाल पडियारी एक कविता सुना रहे हैं :
बिलक-बिलक कर माँ बुढ रोती रही-
पहले पति गया, फिर गया जवान बेटा-
जो जीने की सहारा था, खुदा को हो गया प्यारा-
जग में रह गई अकेली, रिश्ते नाते कर दिए सभी पराई-
ये कैसी मुसीबते आई भाई, झुकी कमर हाथ में लाठी-
कंध में भीख का थैला, द्वारा-द्वारा जा जय सीता राम...

Posted on: Oct 17, 2018. Tags: CG KANHAIYALAL PADIYARI POEM RAIGARH

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »