धरती आहा खिले, नाय भूले जी...भीली प्रकृति गीत

नारायण भाई राठवा गुजरात के छोटा उदयपुर जिले के कवाट के गुजारिया एकलव्य मॉडल स्कूल से एक गीत गा रहे हैं. गीत धरती माँ और प्रकृति पर आधारित है:
नाय भूले जी अमो, नाय भूलेजी यो
धरती आहा खिले, नाय भूले जी
ये धरती पे पानन फूले, पानन फूले
मन में आवे तहां, पान तोड़े जी
पाय ते जे, नाय भूले जी
नाय भूले जी...
ये धरती पे अन्न न पाएं, अन्न न पाएं
अन्न न पाएं
मन में आवे तहां, अन्न पाएं
फूल तोड़ें जी, नाय भोलजे
नाय भूले जी...
ये धरती पे, जेर बाधा
जेर बाधा, जेर बाधा
हिले-मिले-ने दोष काढ्जे
जेवें नाए जे, नाय भूले जी
नाय भूले जी...

Posted on: Oct 19, 2014. Tags: Narayan Rathwa

Impact: Handpumps broken from year got repaired after message on Swara...

Patiram Marko is calling from Tankitola Mohalla under Pidhroki village in Bajag block, Dindori District, Madhya Pradesh and says 2 handpumps were broken for a year in his village. They complained to officials many times but no one responded. After he recorded a message on CGNet Swara both hand pumps have got repaired. Villagers would like to thank CGNet and listeners who called officers to put pressure on them. Patiram Marko@9669037356

Posted on: Oct 19, 2014. Tags: Patiram Marko

Today's news from newspapers in Gondi: 19th October 2014

384 गोंडवाना गणतंत्र पार्टी कार्यकताओं ने दी गिरफ्तारी
जिले के 2 लाख विद्यार्थियों को मिला पोषण आहार का लाभ
किसानों ने रमन सरकार को घेरा, किया चक्काजाम
हजारो आदिवासियों को नहीं मिला बोनस

Posted on: Oct 19, 2014. Tags: Dhondu Varkhade

वन से अपना जीवन, वन ही अपना प्राण हैं...वन पर कविता

ग्राम-बंजारी, जिला-सिवनी, मध्यप्रदेश से लक्ष्मण कुमार वन पर एक कविता सुना रहे हैं :
वन से अपना जीवन, वन ही अपना प्राण हैं
वन समितियों के माध्यम से, इन्हें बचाना आन है
वन अपने हैं, कब्जा इन पर , कोई व्यक्ति नहीं कर ले
वन्य जीव हैं मित्र ! न इनका कोई भी शिकार कर ले
हर अवैध धंधे पर रखना, अंकुश अपना धर्म है
हो ना अवैध चराई-कटाई, खनन न चोर कोई कर ले
वन से अपना जीवन, वन ही अपने प्राण हैं
हम रक्षक अपने जंगल के, भक्षक को मार भगाएंगे
लकड़ी-बल्ली-बाँस मुफ्त रूप में, हम जंगल से पाएंगे
वन दोहन से प्राप्त राशि का, अंश प्राप्त होगा हमको
अपने जंगल में मंगल हम, मिलकर सभी मनाएंगे
वन से अपना जीवन, वन ही अपने प्राण हैं
वन समितियों के माध्यम से, इन्हें बचाना आन है

Posted on: Oct 19, 2014. Tags: Laxman Kumar

50 of us worked in NREGA for 6 months 6 months back, still waiting for wages...

Ravikant Shah Pandre is calling from Pondi Beharguda village of Mawai block, Mandla district in Madhya Pradesh and talking to villagers who say that 6 months back 50 of them worked for Govt under NREGA for 3 to 6 months but have’nt got their wages yet. Few got part wages and waiting for the rest. They requested local officials many times but they don’t help. You are requested to call collector@9425164003 to help. Ravikant Pandre@9407810299.

Posted on: Oct 19, 2014. Tags: Ravikant Pandre

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »



Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
Sitara
UN Democracy Fund