5.6.31 Welcome to CGNet Swara

प्रेम की बारे में रोपे गाये हम,प्रेम की बारे में...विवाह गीत

मनीषा कुमारी, अनिता और नीलम एक्का जो ग्राम-घरगट्टी, तहसील-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखंड) से है वे लोग एक विवाह गीत सुना रहे है:
प्रेम की बारे में रोपे गाये हम प्रेम की बारे में-
प्रेम की बारे में रोपे गाये हम, प्रेम की बारे में-
दीदी ने दादा से प्रेम किया,हा हा हा हा-
प्रेम की बारे में रोपे गए हम प्रेम की बारे में...

Posted on: Jul 02, 2018. Tags: ANITA MANISHA KUMARI NILAM EKKA SONG

हो जुग-जुग जीओ हो, हो भईया जीओ हो...सामा चकवा लोकगीत

जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से अनीता कुमारी, प्राची और सिमरन एक सामा चकवा लोकगीत सुना रही हैं:
हो जुग-जुग जिओ हो हो भईया जिओ हो-
सामकेली सलली भौजी संग सहेली-
ऐरिन बैरिन निहुंच के फेंकब भैईया के ओही पार-
ताम चकेवा कंच बताईब भागमती के धार हो-
वृंदावन में आग लागल केहु ना बुझावे हो-
हंबड भईया चकवा भईया पटना से आवे हो...

Posted on: Jun 15, 2018. Tags: ANITA KUMARI

मैं विधवा हूँ, मेरे पति को गुजरे दो साल हो गए, चार बच्चे हैं, मुझे विधवा पेंशन नहीं मिलता...

ग्राम-कोटराही, जनपद-वाड्रफनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से अनीता बता रही है कि उनके पति का 2 साल पहले देहान्त हो गया लेकिन उनको पेंशन नहीं मिल रहा हैं, छोटे-छोटे 4 बच्चे, घर में कमाने वाला कोई नही है, विधवा पेंशन के लिए उन्होंने सचिव सरपंच के पास 2-3 बार फार्म भरकर जमा किया है लेकिन आज तक नही मिल रहा है और बोलते हैं कि नही मिलेगा | इसलिए सीजीनेट सुनने वाले साथियों मदद की मांग कर रही है कि इन अधिकारियो से बात करके उनको विधवा पेंशन दिलवाने में मदद करें: सचिव@9981725918, CEO@ 9479082150, कलेक्टर@9425253580, SDM@7746873930. अनीता@9977051573.

Posted on: Jun 01, 2018. Tags: ANITA BALRAMPUR

प्यासा हिरण जैसे ढूंढे हैं जल को, ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा...भक्ति गीत

ग्राम-सिलोटा, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से अनीता शाण्डिल्य एक भक्ति गीत सुना रही हैं:
प्यासा हिरण जैसे ढूंढे है जल को, ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा-
तू ही मेरी मन की अभिलाषा तेरी पूजा निशदिन करता रहूँ मैं-
सोना चांदी मैं तो ना मांगू मन तेरे प्रेम से भरता रहूँ मैं-
तू जो बन जाये श्रध्दा सुमन पुष्प पराग सा झाड़ता रहूँ मैं-
प्यासा हिरण जैसे ढूंढे हैं जल को ऐसे प्रभु मैं तुझें खोज रहा-
प्यासा हिरण जैसे ढूंढे हैं जल को ऐसे प्रभु मैं तुझें खोज रहा...

Posted on: May 31, 2018. Tags: ANITA SHANDILYA

नीमिया के डार मईया लागेली झुलउवा की झूली झूली ना...भोजपुरी गीत-

मुज़फ्फरपुर (बिहार) से अनीता कुमारी भोजपुरी भाषा में एक देवी गीत सुना रही हैं-
नीमिया के डार मईया लागेली झुलुवा की झूली झूली ना-
की मईया मोरी गावेली गीतिया की झूली झूली ना-
की सातो बहिनी गावेली गीतिया की झूली झूली ना-
झूलत झूलत मईया के लागल पियसिया की चली रे गईली न-
मल्हरिया दुआर मईया चली रे गईली न-
नीमिया के डार मईया लागेली झुलुवा की झूली झूली ना...

Posted on: Feb 01, 2018. Tags: ANITA KUMARI MUZAFFARPUR BIHAR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »