पीड़ितों का रजिस्टर: भाई की नौकरी अनुकंपा के रूप में इनके परिवार को मिला...

भानुप्रतापपुर, जिला-कांकेर बस्तर (छत्तीसगढ़) से लता उसेंडी जी बता रहे हैं इनके मूल गाँव में नक्सलियों ने इनके पिताजी को और भाई पुलिस में थे उनको भी मार दिया|इस कारण इन्होंने गाँव को छोड़कर भानुप्रतापपुर 2004 से आकर बस गये हैं|इनके घर में सहायता राशि के रूप में एक लाख रुपये एवं नौकरी मिली है|इनकी मांग है कि इनके भाई भी पुलिस में थे इनकी नौकरी अनुकंपा के रूप में इनके परिवार को मिल जाए| संपर्क नंबर पीड़ित@9406301465.

Posted on: Jul 02, 2022. Tags: BASTAR CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM UTTAR VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सलियों ने बच्चों को नक्सली संगठन में शामिल करने की मांग की थी, फिर डर से गा

नगर पंचायत भानुप्रतापपुर (तसरी पारा) जिला-कांकेर (छतीसगढ़) से सरिता नेताम जी बात कर रहे हैं इनके गाँव देवार खेड़ा में नक्सलियों ने बच्चों को नक्सली संगठन में शामिल होने के लिए मांग मांग कियें थे| अगले दिन उन्होंने डर से गाँव छोड़कर भानुप्रतापपुर आकर बस गए| इस दौरान इनके घर, फसल, जानवर, खेत सब कुछ छोड़कर भाग आए| अब इनके पास रहने व कमाने को कुछ भी नहीं है| सरकार के द्वारा जमीन व 90 हजार रुपये मिलने की बात हुई थी किन्तु सिर्फ 9 हजार रुपये ही कलेक्टर द्वारा मिले| इनकी मांग है बाकी जो पैसा मिलना था वह मिल जाता तो कोई काम धंधा शुरू कर पाते |

Posted on: Jul 02, 2022. Tags: BASTAR BHANUPRATAPPUR CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सलियों के डर से गांव छोड़कर आना पड़ा...

सुधनीबाई नवगो, पिता स्वर्गीय धनीराम, ग्राम पंचायत-कुसकोंडा, ब्लाक-आंतागढ़, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से बता रहे हैं उनके गांव में नक्सली लोग बहुत दबाव करतें थे| उनके गांव में सब लोग डर के कारण गांव छोड़कर भाग गये थे| फिर उनके पिता जी का बीमारी से उनका मृत्यु हो गया फिर उनके मम्मी उनके लेकर 2009 आंतागढ़ में लेके आये| वहां सरकार के तरफ से छोटा सा जमीन मिला है, वही घर बना के रहते हैं| और सरकार के तरफ से कोई सहयोग नहीं मिला है| मजदूरी कर के अपना जीवन यापन कर रहे हैं| अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर@7489195643.

Posted on: Jul 01, 2022. Tags: BASTAR CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM UTTAR VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सलियों के डर से पुराना गांव छोड़कर आंतागढ़ में रह रहे हैं...

ग्राम पंचायत-कोतुल, ब्लाक-पखांजूर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से दयाराम पोटाई बता रहे हैं उनका राशनकार्ड 10 रूपयें बना है| नक्सली लोग आके गांव में युवाओं युतियो को मांगते थे| नहीं भेजने से धमकी देते थे| बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता था| फिर वे लोग अपना पुराना गांव छोड़कर आंतागढ़ में रह रहे हैं| गांव में पूरा घर को तोड़ दिए| सरकार ने जमीन दी है वहीं घर बना के अपना जीवन यापन कर रहे हैं| पूरा गांव में अभी भी जाने से खतरा है| तो खेती बाड़ी भी नहीं कर सकते हैं गांव में जाके| अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर@7587455110.

Posted on: Jul 01, 2022. Tags: BASTAR CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM UTTAR VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सली संगठन में 2009 में जुड़ कर काम कियें. परेशानी के कारण आत्मसमर्पण किया...

ग्राम पंचायत-धनेली, थाना-कोर्र, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से रज्जूराम गोटा बता रहे हैं नक्सली संगठन में 2009 में जुड़ कर काम कर रहे थे| उस समय छोटे उम्र के थे| उनके गांव में 2008 आना चालू कियें| फिर उनको नक्सली में जाने का मन करता था| जाने के बाद कुछ दिन अच्छा रहा लेकिन बाद में बहुत परेशानी हुआ अपने परिवार के साथ रहने नहीं देते थे| वहां से परेशानी के कारण आत्मसमर्पण करना पड़ा 2014 में आत्मसमर्पण किये| आत्मसमर्पण करने के बाद अपने गांव तरफ नहीं जा सकते अभी भी नक्सली से डर बना हैं वर्तमान में कांकेर में रह रहे हैं| सरकार के तरफ से जमीन मिला था वहीं घर बना के रह रहे हैं| और नौकरी कर रहे हैं गोपनीय सैनिक में 12000 रूपयें वेतन मिलता है| अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर@7489470285.

Posted on: Jul 01, 2022. Tags: BASTAR CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM UTTAR VICTIMS REGISTER

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download