पीड़ितों का रजिस्टर:नक्सलियों से डर कर गाँव छोड़ना पड़ा

ग्राम कुलानार जिला कोंडागांव छत्तीसगढ़ से राधा नेताम बता रही है मैं 10वी पढ़ रही थी तब मुझे नक्सलियों ने पकड़ कर संगटन में ले गए थे मैं नक्सली संगटन में तीन साल काम कियी हूँ, 2004से 2007 तक रही हूँ! मैं वह से आ कर राजेश नेताम से शादी की थी वो ख़त्म हुए है 2014-15 को राजेश नेताम बीमार था. मेरे माँ का गाँव कुलानार है जिला कोंडागांव मेरे पती भी कोंडागांव के ही थे उसके बाद मैं वारंट काटके मैं स्कूल में काम कर रही थी ,फिर कांकेर जिला से वारंट खोल के कांकेर से पकड़ ने आ रहे थे फिर मैं थाना में जा कर आत्मा समार पड़ करने को बोलीऔर बड़े डोंगरक थाना से न आत्मा समार पड़ कर दिए फिर अभी g.s में लगा है लगभग 2 साल हुआ क्योंकि मैं आपने गाँव से वारंट कटवाई होती न स्कूल में काम कर रही होती,मैं अभी कोंडागांव जिला में H.p ऑफिस में काम करती हूँ मेरा महिना का सैलरी 11000से 12000 हजार मिलता हैमेरे घर में 2 बच्चे है और नानी है देवर लोग है लेकिन उन लोग अलग-अलग रहते है माँ पापा नहीं है वर्तमान में कोई परेशानी नहीं हैं मैं भी तोड़ा बहुत कमा लेती हूँ और बच्चे मन को भी पढ़ा रही हूँ और माओवादी से उधर दर लगता है इन्धर तो डर नहीं है गाँव में डर हैं इसलिए उधर नहीं जाती हूँ कृपया मदद करें! जानकारी हेतु@6267868286.

Posted on: Jan 13, 2022. Tags: CG KONDAGAON REGISTER VICTIM

पीड़ितों का रजिस्टर: बड़े भाई को और बेटा को नक्सलियों से मार दिया, और सरकार के तरफ से कोई सहयोग राशी न

ग्राम-बड़ेकवली, जिला-कोंडागांव, बस्तर (छत्तीसगढ़) प्यारेलाल जी बता रहे हैं की हमारे पहले के गाँव कोलंगा में नक्सली की समस्या थी| उनके गाँव में लोगों के साथ झगड़ा था और गाँव वालों ने नक्सलीयों को उनके खिलाफ शिकायत कर दिए| नक्सलीयों ने उन्हें डराया और जान से मारने की धमकी दी| उनके बड़े भाई को व इनका बेटा को रात में मार दिए| दूसरा कारण ये था रात मे नक्सलीयों ने हमला कर दिया| और वे लोग लोग छिपते-छिपाते गाँव से दूर भाग आए| अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर@6267909823, जिला सीईओ@9425598888.

Posted on: Jan 10, 2022. Tags: BADEKAWLI BASTAR CG DISPLACE MAOIST PYARELAL YADAV REGISTER VICTIM

पीड़ितों का रजिस्टर: पहले नक्सली संगठन में काम करते थे, मजबूर होकर गांव छोड़कर आना पड़ा|

ग्राम-गुच्छाकोट, जिला-नारायणपुर, बस्तर (छत्तीसगढ़) से मैनू राम कोंर्रम जी अपनी आप बीती बता रहे हैं मैं पहले नक्सली में काम करता था| पुलिस वालों ने हमे 3 महीने तक रखा था फिर हमने आत्मसमर्पण किया और सरकार के दवारा दस हजार रुपये सहायता राशि मिली थी| अब हम नारायणपुर गुडरीपारा में घर बनाकर रहते हैं और मजदूरी करके जीवन जीते हैं|हमे बहुत समस्या हुई और अब भी होती है सरकार से मिलने वाली सुविधा की हमे भी आवश्यकता है|संपर्क नंबर@8817767989.

Posted on: Jan 10, 2022. Tags: BASTAR CG MAINURAM KORRAM NARAYANPUR REGISTER SARENDER VICTIM

पीड़ितों का रजिस्टर: 10 साल से नक्सली संगठन में काम लिए, 018 में पुलिस के सामने खुद को आत्मसमर्पण किया,

ग्राम-गुडरीपारा, जिला-नारायणपुर, ब्लाक-ओरछा (छत्तीसगढ़) से जुंगाराम पोटाई जी सीजी नेट के श्रोताओं को अपनी कहानी बता रहे हैं उन्होंने पहले नक्सली संगठन में काफी साल तक काम किया| 10 साल इस संगठन में काम करने के बाद इन्होंने 2018 में पुलिस के सामने खुद को आत्मसमर्पण किया| आत्मसमर्पण के पश्चात सरकार के द्वारा जो सहायता दी जाती है यह सहायता इन्हे नहीं मिल पाई है| इन्होंने सीजी नेट के श्रोताओ से मदद की गुहार लगाई है कि इन्हे सरकारी योजनाओं के तहत मिलने वाली सभी योजना का लाभ मिल सकें|समस्या समाधान के लिए इन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं| संपर्क नंबर@9406154116.

Posted on: Jan 10, 2022. Tags: GUDARIPARA JUNGARAM POTAI MAOIST REGISTER SARENDER VICTIM

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सलियों ने जंगल में ले गये थे, डर से अपना गांव छोड़ना पड़ा,

ग्राम-बेडमाकोट, ब्लाक-ओरछा, नारायणपुर (छत्तीसगढ़) से सुरजबती सलाम जी अपनी कहानी बता रही हैं उन्होनें नक्सली समस्या से अपने मूल गाँव को छोड़कर नारायणपुर शांतिनगर में आकर बस गए| नक्सलियों ने इन्हे ये कहकर परेशान करना शुरू कर दिया कि पुलिस वालों के लिए खाना बनाते हो, और उन्हें रात में ही नक्सलियों ने उठाकर जंगल ले गए| किसी तरह इन्होंने अपनी जान बचाकर जंगल से भाग आए| इस कारण इन्होंने अपना घर जमीन पशु सबकुछ छोड़कर नारायणपुर आकर बस गए |अधिक जानकारी के लिए इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं|अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर@8450003916.

Posted on: Jan 10, 2022. Tags: CG DISPLACED MAOIST NARAYANPUR REGISTER SHANTINAGR SURAJBATI SALAM VICTIM

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download