पीड़ितों का रजिस्टर: मेरे बड़े भाई को नक्सलियों ने मुखबीर बता कर मार डाला...

रामदयाल यादव, जो कि पिछले 19 साल से अपना गांव संजयपारा छोड़ कर भानुप्रतापपूर में रहते हैं, बता रहे हैं कि नक्सलियों ने मुखबीर समझ कर उनके बड़े भाई की आमाबेड़ा के पास हत्या कर दी गई थी। उन्हें सरकार से कोई सहायता नहीं मिली है। उनकी मांग है कि उनके बच्चों को नौकरी मिलनी चाहिए जिससे उनका जीवन यापन हो सके। संपर्क नंबर- 9630660684

Posted on: Oct 18, 2021. Tags: BHANUPRATAPPUR CG KANKER MAOIST VICTIM RAMDAYAL YADAV VICTIM REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: गांव जाने पे नक्सलियों द्वारा मार दिए जाने का खतरा है...

सरिता गावड़े, जो कि अभी बीजापुर में रहती हैं, बता रही हैं कि वे नक्सलियों के डर से अपने गांव नहीं जाते हैं। उनके पति पुलिस में नौकरी करते हैं। उन्हें डर है कि अगर वे गांव जाएंगे, तो माओवादी उन्हें मार डालेंगे। उन्हें सरकार से कोई मदद नहीं मिली है। अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर- 7587102510

Posted on: Oct 16, 2021. Tags: BIJAPUR MAOIST VICTIM SARITA GAWDE VICTIM REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सलियों की धमकियों से डर कर 10 साल पहले गांव छोड़ना पड़ा...

बिसलाल दुग्गा, जो कि फिलहाल भानुप्रतापपुर में रहते हैं, बता रहे हैं कि नक्सलियों की धमकियों के कारण उन्हें अपना गांव छोड़ कर भागना पड़ा। वे 2011 में पलायन करने के पहले ग्राम गुमड़ी में रहते थे। उनके परिवार में 7 सदस्य हैं। उन्हें सरकार से कोई मदद नहीं मिली है। ज्यादा जानकारी के लिए संपर्क नंबर- 8817071365

Posted on: Oct 16, 2021. Tags: BHANUPRATAPUR BISLAL DUGGA CG KANKER MAOIST VICTIM VICTIM REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: मेरे पिता और चाचा को नक्सलियों ने मार दिया, सरकार से कोई मदद नहीं मिली

सीमा ध्रुव, जो कि भानुप्रतापपुर, जिला कांकेर, छत्तीसगढ़ में रहती हैं, बता रही हैं कि नक्सलियों द्वारा इनके पिता और चाचा को मारा गया था। जिसके बाद वे लोग गांव छोड़ कर भागना पड़ा। उन्हें सरकार से कोई मदद नहीं मिली है। उनके परिवार में 10 सदस्य हैं। उनकी मांग है कि उन्हें अपने परिवार के भरण पोषण के लिए एक नौकरी और घर बनाने के लिए जमीन मिलनी चाहिए। संपर्क नंबर- 8103800614

Posted on: Oct 15, 2021. Tags: BHANUPRATAPUR CG JOB KANKER MAOIST VICTIM SEEMA DHRUW VICTIM REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: गांव छोड़ कर भागना पड़ा, आवास, राशन कार्ड दिलवाने में मदद करें...

राजमन दुग्गा, जो कि नक्सलियों के डर से अपना गांव बैहासालेगढ़ छोड़ने के बाद नारायणपुर में रहती हैं, बता रही हैं कि उनके पट्टी को सरकार द्वारा नौकरी मिली है। लेकिन उनका नक्सल पीड़ित प्रमाण पत्र के लिए केस दर्ज नहीं हुआ है, जिसके कारण उन्हें इंदिरा आवास योजना के तहत घर और राशन कार्ड की मांग है। उनके परिवार में 6 सदस्य है। संपर्क नंबर- 7587371421

Posted on: Oct 15, 2021. Tags: AAWAAS HOME MAOIST VICTIM NARAYANPUR RAJMAN DUGGA RATION VICTIM REGISTER

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download