पीड़ितों का रजिस्टर : मुखबिर का आरोप लगाकर जबदस्ती उठाकर नक्सली संगठन में शामिल कर लिए थे...

सोनगरिया कोर्रम, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से बता रहे हैं कि वे नक्सल पीड़ित हैं और नक्सलियों ने उन्हें मुखबिर का आरोप लगाकर जबदस्ती उठाकर नक्सली संगठन में शामिल कर लिए थे| कुछ समय के बाद उन्होंने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया| आत्मसमर्पण के बाद सरकार से सहायता राशि के रूप में 10 हजार रुपये मिले है और कुछ नहीं मिल पाया| इनका आगे कहना है कि घर बनाने के लिए जमीन और सरकारी नौकरी चाहिए| गाँव छोड़कर भागने से इनके पास खेती के लिए भी जमीन नहीं है| कृपया इन्हे सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने में मदद करें|

Posted on: Jun 28, 2022. Tags: CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM UTTAR BASTAR VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सली कहकर जेल में ले गए, पर कोई ध्यान नही दे रहे हैं, कृपया मदद की अपील-

ग्राम-आतुर बेड़ा, पंचायत-भैंस गांव, पोस्ट-कोलर, जिला-उत्तर बस्तर कांके (छत्तीसग़ढ) से लखुराम नरेटी बता रहे हैं कि उनके पिता जी को नक्सली कहकर जेल में ले गए, उनके पिता को 1.5 साल तक जेल में रखा गया। उस समय वह बच्चे थे, उनको उतनी जानकारी नहीं थी। उनकी माँ ने इधर-उधर से पैसे इकठ्ठा किए। सरकार की तरफ से कोई सहायता नहीं मिली है, इसलिए साथियों से मदद कि अपील कर रहें हैं। संपर्क@7646869560.

Posted on: Jun 28, 2022. Tags: CG KANKER LAKHURAM NARETI POLIC VICTIM REGISTER VICTIM

पीड़ितों का रजिस्टर: नक्सलियों ने मुखबिरी का आरोप लगाकर भगा दिया|

मेहर सिंग नेताम पिता सोभी राम नेताम जी बता रहे हैं इनके गाँव में नक्सली समस्या थी| नक्सलियों के डर व धमकी से अपने मूल गाँव को छोड़कर दूसरे जगह आकर बस गए| इनका आगे कहना है कि ये पहले नक्सली संगठन में भी कार्यरत थे किन्तु कुछ समय पश्चात संगठन चोकर गाँव में रहने लगे थे| इसके बाद नक्सलियों ने मुखबिर का आरोप लागाकर जान सभा रखी गई थी और इन्हे मारने की धमकी भी मिली| इस डर से इन्होंने घर छोड़ दिया|इन्हे किस भी प्रकार ई सरकारी सुविधा नहीं मिल पाई है| कृपया मदद करें| संपर्क नंबर@7803880080.

Posted on: Jun 21, 2022. Tags: CG DISPLACED DURGUKONDAL KANKER MAOIST VICTIM MEHARSING VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: गांव में सरपंच को नक्सलियों ने मार दिए, डर से गांव छोड़ना पड़ा...

जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से श्यामलाल मरकाम पिता जपाऊराम जी बता रहे हैं कि ये नक्सल पीड़ित हैं और नक्सलियों के डर से गाँव छोड़कर आए हैं| गाँव में नक्सलियों ने सरपंच को मार दिए इस कारण डर से वे लोग भी डर से मूल गाँव को छोड़ दिया| नक्सल पीड़ितों को सरकार की और से मिलने वाली सुविधा में राशन कार्ड और थोड़ी सरकारी जमीन दी गई है, इसके अलावा इन्हे कुछ भी नहीं मिला है| उन्हें घर बनाने के पैसे व जमीन की जरूरत है| कृपया सरकारी सहायता का लाभ दिलाने में मदद करें| अधिक जानकारी के लिए| संपर्क नबर@9770750247.

Posted on: Jun 20, 2022. Tags: BASTAR CG DISPLACED KANKER MAOIST VICTIM UTTAR VICTIMS REGISTER

पीड़ितों का रजिस्टर: पहले नक्सल संगठन का हिस्सा थे, हिंसा ने गांव छोड़ कर भागने को मजबूर किया...

मेहर सिंह नेताम (30) अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ 2017 से ग्राम चारगांव, ब्लॉक कोयलीबेड़ा, जिला कांकेर, छत्तीसगढ़ में रहते हैं। माओवादी हिंसा के कारण उन्हें अपना गाँव मनहकाल, ब्लॉक कोयलिबेड़ा, कांकेर जिले में रहते थे। वह उस समय नक्सली संगठन का हिस्सा थे। हिंसा की स्थिति ने उन्हें अपनी जमीन और अन्य चीजें पीछे छोड़ कर चारगांव में प्रवास करने के लिए मजबूर कर दिया। उन्हें सरकार से कोई मदद नहीं मिली। वे सरकार से नए घर के लिए जमीन की मांग कर रहे हैं। संपर्क नंबर@7803880080.

Posted on: Jun 20, 2022. Tags: KANKER KOYLIBEDA LAND MAOIST VICTIM MEHER SINGH NETAM VICTIM REGISTER

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download