आधा पेट खा के बेटा तोला भर पेट खवाएं गा...छत्तीसगढ़ी गीत

ग्राम-तमनार, जिला-रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से कन्हैयालाल पडियारी एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहे हैं:
मोर दुलारू बेटा गा मोर दुलारू बेटा गा-
दस महिना कोख मा धरके तोला मै जन्मायों गा-
अपन लहू ला गोरस बनके तोला मै पियायों-
अपन जिन्दगी ला दांव लगाके तोर जिन्दगी ला सँवारे गा-
आधा पेट खा के बेटा तोला भर पेट खवाएं गा-
मोर बुढ़तकाल के सहारा होबे कहिके पातेयों गा...

Posted on: Sep 20, 2018. Tags: CG CHHATTISGARHI KANHAIYALAL PADIYARI RAIGARH SONG

मोला दगा दिये दगा वाली ओ, तै खाले कमाले मजा उडाले का नजर भर देख तो लेले...गीत-

ग्राम-कोटया, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक एक गीत सुना रहे हैं :
मोला दगा दिये दगा वाली ओ, तै खाले कमाले-
मजा उडाले का नजर भर देख तो लेले-
सजा के रुख मा बैठे हे खुसरा, हमर पीरत बने रही का करबो दूसरा-
बोहावत के नरवा मा लेहे पड़वा, हय-
तोर दमके जवानी गड़ाले मडवा-
मोला दगा दिये दगा वाली हो तै खाले कमाले...

Posted on: Sep 18, 2018. Tags: CG CHHATTISGARHI MEWALAL DEWANGAN SONG SURAJPUR

नही बांचे नही बांचे नही बांचे ओ, मोर सोन चिरैया...छत्तीसगढ़ी गीत-

परसी, गाम-पचराही, ब्लाक-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से बाबूलाल नेटी एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहे हैं:
नही बांचे नही बांचे नही बांचे ओ-
नही बांचे ओ मोर सोन चिरैया-
राती मोर आथे गा आँखों मा पानी-
कारी हे चेहरा फुलवासी लागे ओ-
कजरेरी नयना चंदा कस लागे वो-
चंदा कस लागे ओ मोर सोन चिरैया, राति मोर आथे गा आखों माँ पानी...

Posted on: Sep 16, 2018. Tags: BABULAL NETI BODLA CG CHHATTISGARHI KABIRDHAM SONG

भोला के जटा में शोभल गंगा मईया हो, शोभल गंगा मईया...छत्तीसगढ़ी भजन गीत-

ग्राम-बटई, पोस्ट-रेवटी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से दुर्गेश पटेल के सांथ एक दीदी जुडी है जो एक छत्तीसगढ़ी भजन गीत सुना रही है:
भोला के जाटा में शोभल गंगा मईया हो, शोभल गंगा मईया-
भोला चलय हिमांचल की ओर ऐ गौरा के सोहागवा-
भोला के गलवा में सर्पपन के माला-
भोला के कमर में मिरगा के छाला-
भोला के हांथो में डमरू त्रिशुलावा-
भोला चलय हिमांचल की ओर ऐ गौरा के सोहागवा...

Posted on: Sep 08, 2018. Tags: BHAJAN CG CHHATTISGARHI DURGESH PATEL SONG SURAJPUR

पहली मै बन्दों वो मोर माता-पिता ला...गोंडवाना गीत

ग्राम पंचायत-कटरा, तहसील-मरवाही, जिला-बिलासपुर (छत्तीसगढ़) से पतराज सिंह मरकाम छत्तीसगढ़ी भाषा में एक गोंडवाना गीत सुना रहे हैं :
पहली मै बन्दों वो मोर माता-पिता ला-
मोर दुनिया देखैया पहली मै बन्दों वो-
नौ महिना तक गर्भ में पाले, दसवे दुनिया दिखाए-
मल-मूत्र के करे सफाई, शुद्ध नारी दुःख उठाये-
जाड घाम से मोखे बचाए गोदी ला सुलाए-
अपने कुश को दूध पिलाके शरीर ला बनाये...

Posted on: Sep 07, 2018. Tags: BILASPUR CG CHHATTISGARHI GONDWANA MARWAHI PATRAJ SINGH MARKAM SONG

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download