वार्ड में पानी की समस्या है हैण्डपंप बनवाने में मदद करें...

ग्राम पंचायत-करसी, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से सियाराम ठाकुर बता रहे हैं उनके गाँव के वार्ड नंबर 4 में पानी की समस्या है गाँव में हैण्डपंप हैं लेकिन वो जमीन में धस गया है जिसके कारण पानी नहीं निकलता हैं, वार्ड में एक हैण्डपंप और है जिसमे पानी के लिये लाइन लगाना पड़ता है, उन्होंने इसके लिये आवेदन किया है लेकिन सुनवाई नहीं हो रही हैं इसलिये वे सीजीनेट के श्रोताओं से अपील कर रहे हैं कि दिये नंबरों पर बात कर पानी की समस्या को हल कराने में मदद करें : सरपंच@8396871133, ब्लाक CEO@9826520171, PHE@9826288040. संपर्क नंबर@9009626152.

Posted on: Apr 07, 2020. Tags: CG PROBLEM SIYARAM THAKUR SURAJPUR WATER

Impact : गाँव में पानी की समस्या थी संदेस रिकॉर्ड कराने के बाद हल हो गयी...

सेमरा, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कुंतीलाल बता रहे हैं कि उनके गाँव में पानी की समस्या थी जिसको उन्होंने सीजीनेट में रिकॉर्ड किया था, संदेस रिकॉर्ड करने के दो माह बाद समस्या हल हो चुकी है अब लोगो को पानी की सुविधा हो गयी है इसलिये वे सीजीनेट के साथियों और संबंधित अधिकारियो को धन्यवाद दे रहे हैं जिन्होंने उनकी मदद की |

Posted on: Mar 26, 2020. Tags: CG IMPACT STORY KUNTILAL SURAJPUR

करले माँ को प्रणाम अपने पिता को प्रणाम...गीत-

ग्राम-गारे, भण्डार पारा, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से रामेश्वर राम मरावी एक गीत सुना रहे हैं:
मंदिर में न मिलेंगे गुरुद्वारे न मिलेंगे-
घर पे ही बैठे हैं तेरे भगवन-
करले माँ को प्रणाम अपने पिता को प्रणाम-
उंगली पकड़कर चलना सिखाया-
भूखे रहकर तुझे खिलाया-
कष्ट कभी जो आया तुझपर-
हरदम तेरा साथ निभाया...

Posted on: Mar 26, 2020. Tags: CG RAMESHWAR RAM MARAVI SONG SURAJPUR

मोर छत्तीसगढ़ के भुइयां मा चिराईयां बोले न...गीत-

ग्राम-कोटया, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक गीत सुना रहे हैं:
चिराईयां बोले संगी चिराईयां बोले न-
मोर छत्तीसगढ़ के भुइयां मा चिराईयां बोले न-
सबके मन डोले न-
मोर छत्तीसगढ़ के भुइयां मा चिराईयां बोले न-
चिराईयां बोले संगी चिराईयां बोले न...

Posted on: Mar 23, 2020. Tags: CG MEWALAL DEWANGAN SONG SURAJPUR

पीपल की ऊँची डाली पर बैठी चिड़िया गाती है...कविता-

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलास पोया एक कविता सुना रहे हैं:
पीपल की ऊँची डाली पर बैठी चिड़िया गाती है-
तुम्हे ज्ञात अपनी बोली में यह संदेश सुनाती है-
चिड़िया बैठी प्रेम प्रीती की रीती हमें सिखलाती है-
वह जग के बंदी मानो को मस्ती मंत्र बतलाती है-
वन में कितने पक्षी है सब मिल जुलकर रहते हैं-
रहते जहाँ वही अपनी दुनिया बसाते है...

Posted on: Mar 15, 2020. Tags: CG KAILASH POYA POEM SURAJPUR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download