मछली जल कि रानी है, जीवन उसका पानी है...कविता-

बास्तानार ब्लाक बस्तर राज्य छत्तीसगढ़ से बोमडा मंडावी जी कि बेटी रोशनी कुमारी मंडावी कविता सुना रही है:
मछली जल कि रानी है-
जीवन उसका पानी है-
हाथ लगाओ तो डर जाती है-
पानी से बाहर निकालो तो मर जाती है...

Posted on: Aug 09, 2020. Tags: POEM

पूरा विश्व जल रहा है, कोरोना काल चल रहा है...कविता-

ग्राम, पोस्ट-पडरी, तहसील-सिरमौर, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से रमेश प्रसाद यादव कोरोना पर एक कविता सुना रहे हैं:
पूरा विश्व जल रहा है-
कोरोना काल चल रहा है-
फैली है बीमारी का बवाल देख लीजिये-
देश व विदेश में मचाया हाहाकार है-
कोरोना महामारी का कमाल देख लीजिये-
आई है बीमारी चीन देश से हमारे पास... (AR)

Posted on: Aug 06, 2020. Tags: POEM

आमी आज जांवा बाई, आमी आज जांवा...हल्बी कविता-

प्राथमिक शाला पीरमेटा, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) कुमारी परमिला हल्बी बोली में एक कविता सुना रही हैं:
आमी आज जांवा बाई, आमी आज जांवा-
बेड़ा पान काऊँ-
मुचकी मारून मारून तोंवा-
आते भुलुन भुलुन बसुन डोवां-
गैयानुवा लाई अमय चाऊं बाई अमय चाऊं... (AR)

Posted on: Aug 03, 2020. Tags: POEM

देखो कैसा अजब गजब, राखी का त्यौहार आया है...गीत-

जिला-राजनांदगाँव (छत्तीसगढ़) से विरेन्द्र गंधर्व राखी त्यौहार पर एक कविता सुना रहे हैं:
देखो कैसा अजब गजब-
राखी का त्यौहार आया है-
कोरना महामारी की कैसी छाई माया है-
कुछ बहनों से चाह कर भी मिल न सकेंगे भाई-
ठण्डे पड़े आवागमन के साधन-
बंद हुई आवा जाही... (AR)

Posted on: Aug 03, 2020. Tags: POEM

सूरज सा चमकूँ मैं चंदा सा चमकूँ मैं...कविता-

ग्राम-पीरमेटा, पंचायत-तुरंगुर, ब्लाक-बास्तानार, जिला-बस्तर छत्तीसगढ़ से बाबुलाल के साथ कक्षा 5 वी का छात्र नागेश मण्डावी एक कविता सुना रहे है:
सूरज सा चमकूँ मैं चंदा सा चमकूँ मैं-
जगमग-जगमग उज्जवल तारो सा चमकूँ मैं-
मेरी अभिलाषा है फूलो से महकूँ मैं...

Posted on: Aug 02, 2020. Tags: POEM

View Older Reports »