एक पत्नी अपने पति से कहती है...कहानी-

जिला-बडवानी (मध्यप्रदेश) सुरेश कुमार एक कहानी सुना रहें है:
एक पत्नी अपने पति से कहती है-
सुनों जी जब आप अंग्रेजी शराब-
पी कर आतें हो तो मुझे परी कहतें हो-
और जब देशी शराब पी कर आतें-
हो तो रानी कहकर बुलाते हो...

Posted on: Aug 28, 2021. Tags: POEM SONG VICTIMS REGISTER

भूखे-मजदूर-किसानों के लिए, वीर नारायण सिंह ने अपना खून बहाया था...कविता

भागीरथी वर्मा, रायपुर, छतीसगढ़ से हैं. छत्तीसगढ़ शासन द्वारा अभी हाल ही में वीर नारायण सिंह का शहादत दिवस मनाया गया है. उसी सन्दर्भ में एक कविता का प्रस्तुत कर रहे हैं:
छतीसगढ़ के सोनाखान में, इंक़लाब का बिगुल बजाया था
भूखे-मजदूर-किसानों के लिए, वीर नारायण सिंह ने अपना खून बहाया था
सन 1856 के अकाल में
भूख से बिलखते, गरीब-किसानों के जीवन की रक्षा में
अंग्रेजों के खिलाफ संघर्ष चलाया था
छतीसगढ़ के सोनाखान में...
सोये हुए आदिवासियों को, उस वीर ने जगाया था
बेईमानों को ललकारा था
ऐ लुटेरे ! तू खाली हाथ आया है, अब खाली हाथ ही जाएगा
छतीसगढ़ के सोनाखान में...
जन आंदोलन देखकर, मक्कारों ने घबराया था
राजद्रोही बनाकर उस वीर को, जेल में ठूंसवाया था
जल्लाद अंग्रेज ने भी उस वीर के साथ, कैसा दुर्व्यवहार रचाया था
बीसों नाख़ून खींचकर, उँगलियों को लहू-लुहान बनाया था
छतीसगढ़ के सोनाखान में...
10-दिसंबर-1857 का, वह मनहूस दिन भी आया था
देश के गद्दारों ने जयस्तंभ चौक पे, उस वीर को फांसी पर लटकाया था
उस वीर के शहीद होने से, छत्तीसगढ़ के धरती में मातम सा पसराया था
छतीसगढ़ के सोनाखान में...

Posted on: Aug 12, 2021. Tags: BHAGIRTHI WARMA CG POEM RAIPUR

तितली रानी इतनी सुंदर पंख कहा से लाई हो...बाल कविता

ग्राम-रक्सा, पोस्ट-फुनगा, थाना-भालूमडा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से दिव्या जोगी एक बाल कविता सुना रही हैं :
तितली रानी इतनी सुंदर पंख कहा से लाई हो-
क्या तुम कोई शहजादी हो परी लोक से आयी हो-
फूल तुम्हेँ भी अच्छे लगते फूल हमें भी अच्छे भाते-
तितली रानी इतनी सुंदर पंख कहा से लाई हो...

Posted on: Aug 04, 2021. Tags: ANUPPUR DIVYA JOGI MP POEM

निरंकुश सत्ता से विपक्ष डरे सहमे हुए रहती है...कविता-

रायपुर (छत्तीसगढ़) से भागीरथी वर्मा एक निरंकुश के ऊपर कविता सुना रहे हैं:
निरंकुश सत्ता से विपक्ष डरे सहमे हुए रहती है-
कहीं विरोध करने पर हमारे सम्पति बुलडोजर ना चलावे-
इसलिए सत्ता के साथ कदम ताल मिलाने लगी है-
मीडिया भी तंत्र का डफली बजाने लगी शिक्षा का नाम मत लो-
जनता अनपढ़ गवार रहे भूखे पेट सोने तयार रहे
आवाज भी ना उठा सके इसलिए स्कूल कॉलेज बंद रखेगी-
निरंकुश सत्ता से विपक्ष डरे सहमे हुए रहती है...

Posted on: Jul 28, 2021. Tags: BHAGIRTHI WARMA CG POEM RAIPUR

हठ कर बैठा चाँद एक दिन, माता से यह बोला...कविता-

जिला-भादोरी, उत्तर प्रदेश से पुष्पराज मौर्य एक कविता सुना रहे हैं:
हठ कर बैठा चाँद एक दिन, माता से यह बोला-
सिलवा दो माँ मुझे ऊन का मोटा एक झिंगोला-
सन-सन चलती हवा रात भर जाड़े से मरता हूँ-
ठिठुर-ठिठुर कर किसी तरह यात्रा पूरी करता हूँ-
आसमान का सफ़र और यह मौसम है जाड़े का-
न हो अगर तो ला दो कुर्ता ही कोई भाड़े का...

Posted on: Jul 07, 2021. Tags: BHADORI POEM PUSHPRAJ MAURYA UP

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download