चांदनी रात में बरसात बुरी लगती है...गजल गीत-

नितिन कुमार उत्तर प्रदेश से एक गजल सुना रहे है
चांदनी रात में बरसात बुरी लगती है-
धरती में मेरा हर बात बुरी लगती है-
आग की मोहिनी सूरत बिगाड़ देती है-
बड़े बड़ो को जरुरत बिगाड़ देती है-
गैरो के गिला क्या करे अपने बदल गये...(GM)

Posted on: Feb 28, 2021. Tags: GAJAL SONG NITIN KUMAR UP

खरगोश और लोमड़ी की...कहानी

ग्राम मसूरी, जिला-चित्रकूट (उत्तर प्रदेश) से गुरु प्रसाद एक कहानी सुना रहे हैं:
एक लोमड़ी थी उसे बहुत भूख लगी थी| लोमड़ी ने अंगूर देखा और उसे खाकर अपना भूख मिटाऊँ| यह सोचकर लोमड़ी बाग में गई और जोर से छलांग लगई ताकि अंगूरों तक पहुच सके, वह धड़ाम से निचे जा गीरी| लोमड़ी को बहुत शर्म आई फिर लोमड़ी चुप-चाप वहां से चली गयी| एक खरगोश सब कुछ देख रहा था| खरगोश ने लोमड़ी को बोला क्यू अंगूर नही खाओगी लोमड़ी ने बोली| मैंने सुना है की अंगूर बहुत खट्टे होते हैं|

Posted on: Feb 28, 2021. Tags: CHITRAKOOT GURUPAPRSAD STORY UP

तरह महिमा बाजे गुमेनी निराली...भोजपूरी गीत-

गुड्डू भारती जिला-सोनभद्र (उत्तरप्रदेश) से एक भोजपूरी गीत सुना रहे हैं:
तरह महिमा बाजे गुमेनी निराली-
ये मादर से जाला ना कोई तोहरा खाली-
सर से जाला ना कोई तोहरा खाली ना हो-
गड़िया लेके भोरे-भोरे चल जाले बड़ी दूर हो-
महिमा फुक दिया हा उनका के होई कोनो कसूर हो-
तोहरे दुवरिया पसरनी अचरवा पिया-
तरह महिमा बाजे गुमेनी निराली...(184057) GT

Posted on: Feb 26, 2021. Tags: BHAJPURI SONG GUDDU BHARTI SONBHADR UP

वक्त भी मुड़कर आती नही...कविता

जिला-रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से राजेन्द्र गुप्ता एक कविता सुना रहे हैं :
यूँ घबराना नही कभी-
मौत मुड़कर आती नही कभी-
वक्त भी मुड़कर आती नही-
बस स्मृति शेष बनकर रह जाती देश...(185387) D

Posted on: Feb 26, 2021. Tags: CG PORM RAIGARH RAJENDRA GUPTA

हे शारदे माँ...सरस्वती वन्दना गीत-

जिला-अनुपुर (मध्यप्रदेश) से सोनू राठौर सरस्वती वन्दना गीत सुना रहे है:
हे शारदे माँ
अज्ञानता से हमें तार दे माँ-
तू स्वर की देवी हैं संगीत तुझ से-
हर शब्द तेरा है हर गीत तुझ से-
हम है अकेले, हम है अधूरे-
तेरी शरण में हमें प्यार दे माँ...(RM)

Posted on: Feb 25, 2021. Tags: ANUPUR MP SARSVATI VANDNA

View Older Reports »