शहीद भगत सिंह की याद में...कविता-

कानपुर से केएम भाई एक कविता सुना रहे है जो 114वी जयंती पर शहीदे-ए-आजम को शत शत नमन करते हुये सुना रहे है :
शहीद भगत सिंह की याद में-
न आंसू हैं न है ख़ुशी-
न जश्न है न शोक-
हर लफ्ज़-
आज है खामोश…
इंकलाब का-
वो चेहरा-
आज बन गया-
है एक कोष...
न रंग है न है जोश-
न फ़िक्र है न रोष-
वतन का-
वो मतवाला-
आज हो-
गया है बेहोश....
न तप है न तपिश-
न शौर्य है न कशिश-
आजाद बिस्मिल का-
वो सरफ़रोश-
आज हो-
गया है एक पोज़.....
न गुलामी है न है ब्रिटिश-
न रंज है न है सितम-
पंजाब का-
वो भगत-
आज बन गया है-
यादों का एक कोष ...

Posted on: Sep 29, 2021. Tags: KANPUR KM BHAI POEM UP

एक दिन नदी के तिरे साथ रहली धीरे-धीरे...गीत-

जिला-गाजीपुर, उत्तरप्रदेश से सनोज यादव एक गीत सुना रहे हैं:
एक दिन नदी के तिरे साथ रहली धीरे-धीरे-
हम आंखी में देखली सुन्दर शरिया आगियाँ-
सुन्दर शरिया आगियाँ में जाए रहली वो-
एक दिन नदी के तिरे साथ रहली धीरे-धीरे...(185177)

Posted on: Sep 19, 2021. Tags: GAJIPUR HINDI SONG SANOJ YADAV UP

सहकार रेडियो : बाल चौपाल (पेड़ की कृतज्ञता)

बाल चौपाल में सुनिए कहानी पेड़ की कृतज्ञता| इसे लिखा है रूपा गुप्ता ने| स्वर दिया है जयपुर राजस्थान से साथी सुनीता ने और इसे प्रकाशित किया है चिल्ड्रेन बुक ट्रस्ट ने| इस कार्यक्रम को 08050068000 डायल करके सीजीनेट स्वर में भी सुन सकते है |

Posted on: Sep 19, 2021. Tags: BAL CHAUPAL SAHKAR RADIO

बड़ी मुश्किल से नाला पार करके स्कूल जाना पड़ता था, 4-5 बच्चों ने स्वयं मिलकर पुलिया का निर्माण किया...

कमलूपारा, ग्राम पंचयत- किलेपाल 1, ब्लाक- बास्तानार, जिला- बस्तर (छत्तीसगढ़) से सामू बता रहे हैं कि उनके गांव के बच्चों को नाला पार कर के मुख्य मार्ग से स्कूल जाना पड़ता था। वे दो साल पहले पढ़ाई कर रहे थे तब उन्हें काफी मुश्किल से नाला पार करते थे। उसके बाद 4-5 स्कूल के बच्चों ने स्वयं ही मिलकर रेती, ईंट, सिमेन्ट, इत्यादि ला कर पुल का निर्माण किया। उसके बाद उन्हें माता पिता का भी सहयोग मिला। वहीं से उनकी पढ़ाई छूट गई। संपर्क नंबर@ सरपंच-6268603669, संपर्क-6268973790, CEO-9406016762.

Posted on: Sep 15, 2021. Tags: BASTANAR BASTAR BRIDGE CG KAMLUPARA KILEPAL PUL PULIYA SAAMU

हमको फूलो के बदले काँटों के हार...गीत

ग्राम-मटियाआलम,जिला-कुशीनगर (उत्तरप्रदेश) से सुकई कुसवाहा एक गीत सुना रहे हैं:
किस्मत वालों को मिलता है-
प्यार के बदले प्यार-
हमको फूलो के बदले-
काँटों के हार-
मैंने एक देवता को मन में बसा के...

Posted on: Sep 03, 2021. Tags: HINDI SONG KUSHINAGAR SUKAI KUSWAHA UP

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download