5.6.31 Welcome to CGNet Swara

ना रब ने दिया है ना पैगम्बर ने दिया है, जो कुछ भी दिया है अम्बेडकर ने दिया है...गीत

ग्राम-गढ़वय, पोस्ट-मदरी, थाना-पनवार, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से रीता देवी एक गीत सुना रही है :
ना रब ने दिया है ना पैगम्बर ने दिया है-
जो कुछ भी दिया है अम्बेडकर ने दिया है-
तीरथ किया था हमने उन चार धाम की-
जुदा किया था अल्लाह के नाम से-
पूजा किया था हमने, अयोध्या के राम के-
ना भाग्य ने दिया है ना मुकद्दर ने दिया है-
जो कुछ भी दिया है अम्बेडकर ने दिया है...

Posted on: Jun 05, 2017. Tags: REETA DEVI

दुनिया झुक जाए मैया तेरे दरबार में...देवी गीत -

ग्राम पंचायत-बसरेही, ब्लाक-जवा, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से ममता देवी
एक भक्ति गीत सुना रही है :
दुनिया झुक जाए मैया तेरे दरबार में-
मैया दुवारे एक लंगड़ा पुकारे-
लंगड़े को पैर देना सोच विचार के-
मैया दुवारे एक अँधा पुकारे-
अँधा को नैन देना सोच विचार के-
मैया दुवारे एक बालक पुकारे-
बालक को विद्या देना सोच विचार के...

Posted on: May 30, 2017. Tags: MAMATA DEVI

वीणा वाली मैया तुम वीनवा बजादा हो...सरस्वती वंदना -

ग्राम-करकेटा, पोस्ट-जोगा, प्रखंड-उटारी रोड, जिला-पलामू (झारखंड) से अनीता देवी एक सरस्वती वंदना सुना रही हैं :
वीणा वाली मैया तुम वीनवा बजादा हो-
बगड़ल ब सर मैया सर के सजादा हो-
बाल और बालिका पर दया बरसादा हो-
वीणा वाली मैया तुम वीनवा बजादा हो-
वीनवा बजाके मैया कंठ में समाजा हो-
वीणा वाली मैया तुम वीनवा बजादा हो..

Posted on: May 27, 2017. Tags: ANITA DEVI

बन्नी बैठी है कमरे में हँसे मन-मन में...विवाह गीत -

ग्राम-कन्हौली, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से उषा देवी एक विवाह गीत सुना रही हैं :
बन्नी बैठी है कमरे में हँसे मन-मन में – सजन घर जाना है-
बन्नी कि मांगों में टीका सोहे-
पटवा लगा के बिदा कर दो-
सिंदूर से मांग भर दो-
मुआ से गोद भर दो-
बन्नी के अंगो में चुनरी सोहे-
गोटवा लगा के विदा कर दो-
बन्नी बैठी है कमरे में हँसे मन-मन मे...

Posted on: May 26, 2017. Tags: USHA DEVI

आओ-आओ गुरूजी पधारो मेरे अंगना...शिव भजन

मालीघाट, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से गुड्डी देवी एक शिव भजन सुना रही है :
आओ-आओ गुरूजी पधारो मेरे अंगना-
टूटली मडैया है कि माटी के अंगनवा-
सोने सुलाही गंगा जल पानी-
पैर पखारन गुरूजी अपने अंगनवा-
सोने की थाली कपूर के बाती-
आरती उतारण गुरु अपने अंगनवा-
सोने की थाली छप्पन रंग मेवा-
भोग लगाऊँ गुरु अपने अंगनवा-
आओ-आओ गुरूजी पधारो मेरे अंगना...

Posted on: May 16, 2017. Tags: GUDDI DEVI

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download