5.6.31 Welcome to CGNet Swara

खिल गया दिल चमन मन ही मन में मगन...देवी गीत -

ग्राम-करकटा, पोस्ट-जोगा, थाना-रेला, जिला-पलामू (झारखण्ड) से अनीता देवी एक देवी गीत सुना रही हैं :
खिल गया दिल चमन मन ही मन में मगन – खुश पृथ्वी गगन आप को पाकर – आप आ गए हमपे कृपा कर – हम श्रधा के संत पुजारी मै करहीं रही इंतजारी – खुशबू लायें हैं हम खूब सजाकर और हिन्द गगन को दिवाकर – खिल गया दिल चमन मन ही मन में मगन ...

Posted on: Dec 01, 2017. Tags: ANITA DEVI

लहर लहराए झन्डा अपने देशवा के लज़िया बचाए झन्डा...देशभक्ति गीत

ग्राम-गढ़वय, पोस्ट-लुरगी, थाना-पनवार, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से रीता देवी साकेत एक गीत सुना रही है:
लहर लहराए झन्डा-
अपने देशवा के लज़िया बचाए झन्डा-
वीरों ने मर के तुझे, ऊँचा किया है-
इस जग में उनको, सुख ना मिला है-
जीवन के उनके शांति, दिलाए झन्डा-
भटक-भटक बाबा सविंधान बनाया-
दलित,अछूत वन का उद्धार दिलाया-
सविंधान के उनके सम्मान बढ़ाए झन्डा-
अपने देशवा के लज़िया बचाए झन्डा...

Posted on: Oct 12, 2017. Tags: REETA DEVI SAKET

अंगना बैठले लान्ज्ले कतरे छन पान...मैथिली भाषा में गोसाई गीत

मालीघाट, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से इंदु देवी मैथिली भाषा में एक गोसाई गीत सुना रही है :
अंगना बैठले लान्ज्ले कतरे छन पान-
अग मैसे हो पान खये तन बिरहन मान-
अग मन खिए छनक चबूतरा अरे किये छन निशान-
अग मई कछिलाये भुलाई छन बिहारन मान-
अग मई माटी के चबूतरा अध् जन हा निशान-
अग मई हु न कोई छान बतसा निशान...

Posted on: Sep 05, 2017. Tags: INDU DEVI

बीना वाली मैया तू ,बीनवा बजा दा हो...भक्ति गीत

ग्राम-करकेटा, पोस्ट-जोगा, जिला-पलामू (झारखण्ड) से अनिता देवी एक भक्ति गीत सुना रही है:
बीना वाली मैया तू ,बीनवा बजा दा हो-
बिनवा बजा के मैया घंट में समा जा रे-
बलका और बालिका पे दया बरसा द हो-
बगरेल मा स्वर्ग मैया, स्वर्ग के सजा दा हो-
निर्धन को आँखे देत हो, कोड़ियन को काया हो-
बाझिन को पुत्र दे के, निर्धन के काया हो...

Posted on: Sep 02, 2017. Tags: ANITA DEVI

भींगे रे गघरा भींगे रे बटुआ भींगे बदनवा न...विवाह गीत -

ग्राम-मालीघाट, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से किरण देवी एक विवाह गीत सुना रही है :
भींगे रे गघरा भींगे रे बटुआ भींगे बदनवा न-
झटपट से तिलक चढ़ा दे रे सढवा बरसे ला सवनवा न-
भींगे रे चीपा, भींगे रे लोट, भींगे गिलसवा न-
झटपट से तिलक चढ़ा दे रे सढवा भींगे बहनोंईया न-
भींगे रे गघरा भींगे रे बटुआ भींगे बदनवा न...

Posted on: Aug 25, 2017. Tags: KIRAN DEVI

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »