अंगना बैठले लान्ज्ले कतरे छन पान...मैथिली भाषा में गोसाई गीत

मालीघाट, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से इंदु देवी मैथिली भाषा में एक गोसाई गीत सुना रही है :
अंगना बैठले लान्ज्ले कतरे छन पान-
अग मैसे हो पान खये तन बिरहन मान-
अग मन खिए छनक चबूतरा अरे किये छन निशान-
अग मई कछिलाये भुलाई छन बिहारन मान-
अग मई माटी के चबूतरा अध् जन हा निशान-
अग मई हु न कोई छान बतसा निशान...

Posted on: Sep 05, 2017. Tags: INDU DEVI

जबही गोपाला चलालन मधुबन में...बिहार से विवाह गीत

मुजफ्फरपुर (बिहार) से इन्दु देवी एक विवाह गीत सुना रही हैं, शादी के बाद जब दूल्हा घर आता है उस समय यह गीत गाया जाता है:
जबही गोपाला चलालन मधुबन में-
ले आई लन सासू के बराई-
एक दिन लाया नवे महिनय बबुआ ओ द्वार में रखली-
छवही दिन छ्ही या राजा जी-
बरही बिना बबुआ बरही घर से वली-
तइयोन कहाँ ले बराई-
एक दिन लाया हो घैला बबुआ ससुराली...

Posted on: Nov 25, 2016. Tags: INDU DEVI