5.6.31 Welcome to CGNet Swara

ये तुलसी के रचना वाणी ये राम के अमर कहानी ये...रामचरित मानस पाठ

भोरमदेव वनांचल, ग्राम-रौचन, विकासखंड-बोड्ला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से अमित साहू एक रामायण भजन सुना रहे हैं:
विप्र धेनु सुर संत हित लीन मनुज अवतार-
निज इच्छा निर्मित माया गुण गोपाल-
ये तुलसी के रचना वाणी ये राम के अमर कहानी ये-
ये काया तर जाहि रे संगी ये चोला तर जाहि न-
तय राम के नाम भाजेजा ये चोला तर जाही न-
ये संगवारी तय बहिनी तय राम के नाम जपेजा...

Posted on: Sep 17, 2018. Tags: AMIT SAHU BODLA CG KABIRDHAM RELIGIOUS SONG

स्वागत है पहुना मन के स्वागत है न...सीजीनेट गीत-

भोरमदेव वनांचल, विकासखण्ड-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से अमित साहू छत्तीसगढ़ी भाषा में सीजीनेट और बुल्टू रेडियो पर एक कविता सुना रहे हैं :
स्वागत है पहुना मन के स्वागत है न-
स्वागत है सबो बुल्टू रेडियो सुनईया जनता मन के-
स्वागत है अभिनंदन है न-
गाँव गली सब लोगन मन के होवत है तरक्की-
विकास में गंगा बोहावत है बुल्टू रेडियो सुनईया मन-
राशन पानी आवास बिजली, मजदूरी पेंशन के जानकारी लेवईया...

Posted on: Aug 27, 2018. Tags: AMIT SAHU BULTOO CGNET CHHATTISGARH CHHATTISGARHI KABIRDHAM SONG

स्वास्थ्य स्वर: बवासीर का घरेलू उपचार...

वैद्य अमित साहू, भोरमदेव वनांचल, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से आज हम सभी को बवासीर रोग का एक घरेलू उपचार बता रहे है, बवासीर एक आम बीमारी है जो घर घर में पाई जाती है और लोग उससे बहुत परेशान रहते हैं: उपचार:अपा मार्ग(चिरचिट्टा) का बीज चूर्ण (जो आसानी से गाँव के खेत में मिल जाता है ) को 3 से 7 ग्राम महीन पीस ले, उसको चावल के धोवन से मिला कर रोगी अगर कम उम्र का है तो उसे 3 ग्राम और ज्यादा उम्र का है तो उसे 7 ग्राम सुबह शाम देना चाहिए, खूनी बवासीर का बीमारी में जो ब्लड आता है उसको धीरे-धीरे एक सप्ताह के अंदर में जड़ से सहित साफ हो जाता है | अधिक जानकारी के वैद्य जी का सम्पर्क नम्बर@8964931287

Posted on: Aug 26, 2018. Tags: AMIT SAHU CG HEALTH KABIRDHAM

वनांचल स्वर : फिटकरी से गले के खरास और टांसिल का घरेलू उपचार-

भोरमदेव वनांचल, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य अमित साहू फिटकरी के प्रयोग से मुंह के छाले, गले की टांसिल और खरास आदि का घरेलू उपचार बता रहे हैं, वे कह रहे हैं कि जो साथी ऐसी समस्या से परेशान है, वे फिटकरी का एक छोटा टुकड़ा लेकर दो दिन चूसे इससे आराम मिल सकता है, भोजन में तेल, मसाला, खटाई, गरिष्ठ भोजन का प्रयोग न करें, अधिक खरास हो तो गर्म पानी के साथ में नमक मिलाकर गरारा करें, ठण्डी चीजो का सेवन न करें, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं, वे कह रहे हैं कि हमारे आसपास ऐसी अनेक चीज़ें और वनस्पतियां हैं जिनके बारे में जानकार और उनके उपयोग से हम बगैर दवा के स्वस्थ रह सकते हैं : अमित साहू@8964931287.

Posted on: Aug 22, 2018. Tags: AMIT SAHU CHHATTISGARH HEALTH KABIRDHAM VANANCHAL SWARA

बीत गए रात होत बिहनिया, बुता काम ले लेवौ हरी नाम...छत्तीसगढ़ी गीत-

ग्राम-रौचंद, विकासखंड-बोड़ला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से अमित साहू एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहे हैं :
बीत गए रात होत बिहनिया, बुता काम ले लेवौ हरी नाम-
रोज कमावौ जुल-मिल खावौ माया बढ़त दोनों आप के-
कांध में नागर लेके मुड़ में धमेला गैती-
करथन खेत में बुता काम करथन खेत में बुता काम-
महतारी के दुलरवा राजा बाप के हिरालाल-
खार में खेत है न गांव में घर, जिंहा मिले वही काम...

Posted on: Aug 03, 2018. Tags: AMIT SAHU KABIRDHAM SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »