Impact: We got our due wages after recording message on CGnet Swara...

ग्राम पंचायत-बोंगा, पोस्ट-गोविंदपुर, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से
सीताराम छिन्दराम बता रहे है कि उन्होंने एक सन्देश रिकॉर्ड कराया था सीजीनेट में वह यह कि गाँव के ३५ लोगो ने ५ दिन तक बागतरी से पण्डोराय सड़क समतलीकरण का कार्य किया था जिसका मजदूरी का भुगतान नही हुआ था, वे कई बार अधिकारियों के चक्कर लगा चुके थे पर कोई मदद नहीं कर रहा था फिर अंत में उन्होंने सीजीनेट स्वर में सन्देश रिकार्ड किया और सीजीनेट सुनने वाले से अनुरोध किया कि वे अधिकारियों को फोन कर के दबाव डालें। वे ग्रामीण मजदूरों की और से सीजीनेट श्रोताओं और अधिकारियों की पूरी टीम का आभार प्रकट कर रहे है बहुत बहुत धन्यवाद दे रहे है | सीताराम@8720094306

Posted on: May 18, 2017. Tags: SEETARAM CHHINDRAM

करो भाई वृक्ष की रखवाली वृक्ष की महिमा बड़ी निराली...वृक्षों पर कविता -

ग्राम-बहादुरपुरा, तहसील-सतवा, जिला-देवास (मध्यप्रदेश) से तारा सिंह अवयाम एक कविता सुना रही है :
करो भाई वृक्ष की रखवाली-
वृक्ष की महिमा बड़ी निराली-
पानी से बहती मृदा को रोके-
वृक्षों से निकालने वाले-
प्राणी को रोगी न ठोके-
देता है हमे जीने के लिए प्राण वायु-
रक्षा करेंगे जब तक रहेंगी हमारी आयु...

Posted on: Apr 22, 2017. Tags: TARA SINGH AVAYAAM

Bultoo(Bluetooth) Radio in Gondi language: 26th March 2017...

Today Ashok Taram and Kavita Tumdam are presenting Bultoo Radio in Gondi languages in this latest edition of Bluetooth radio program. Villagers use their mobile phones to record these songs and reports. They call 08050068000 and 07411079272 to record. Now this program can be downloaded by people from their Gram Panchayat office if it has Broadband or from a download centre nearby. They can also get it from someone nearby with smartphone and internet and then via bluetooth.

Posted on: Mar 26, 2017. Tags: ASHOK TARAM KAVITA TUMDAM

झलकत चुनरी सिरुपी माई मईया...देवी गीत

तारा जिला-रीवा मध्यप्रदेश से एक देवी गीत सुना रही हैं :
झलकत चुनरी सिरुपी माई मईया-
जइसय के सोनवा सलोनिवा हो मोरी मईया-
मोरी मईया की दुनिया दीवानी हो मोरी मईया-
माथे मईया जी की बेंदी सोहय-
टीका से झलकत रुपवा हो मोरी मईया-
मोरी मईया की दुनिया दीवानी हो-
काने मईया जी के कुंडल सोहय...

Posted on: Feb 10, 2017. Tags: Tara

मानव के दो अवगुण: दूसरों से ईर्ष्या और अपने आप को सर्वश्रेष्ठ मानकर अपने ही घमंड मे रहना...

ग्राम-बादरपुरा, तहसील-सतवास, जिला- देवास (मध्यप्रदेश) से तारा सिह आदिवासी समाज के बारेला समुदाय में जागरूकता व सुधार अभियान चला रहे है वे आज हमें मानव के गुण-अवगुण के बारे में बता रहे है. वे कहते हैं मानव के 2 अवगुण होते हैं, पहला तो जलने वाला मतलब, घृणा करने वाला, दूसरा है, फूलने वाला मनुष्य मतलब घमंड करने वाला। जलने वाला मनुष्य स्वयं की उन्नति करने के बजाय दूसरे की उन्नति से जलता है, घृणा करता है, वह स्वयं क्रोध में अपनी बुद्धि को नष्ट कर देता है| फूलने वाला मानव अपने आप को सर्वश्रेष्ठ मनाकर अपने ही घमंड मे रहता है और एक दिन ऐसा गिरता है कि किसी को मुह दिखाने लायक भी नही रहता है जैसे गुब्बारे में अगर आप ज्यादा हवा भर देंगे तो वह फट जायेगा | तारा सिंह@9165154105

Posted on: Feb 09, 2017. Tags: Tara Singh Awaya

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download