कैसे गुजर करथो तुम गणपति गजानंद...भजन गीत-

ग्राम कोराल, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से बिसेलाल पटेल एक भजन गीत सुना रहे हैं:
कैसे गुजर करथो तुम गणपति गजानंद-
एक दुसर बैरी हे, तुहर मन के वाहन-
शंकर के देह मा बड़े-बड़े सांप हे-
कहा गे हे मुसवा उहू बड़े पाप हे-
नानकुन मुसवा हा सांप के बा रावन-
दाई के बघवा हा बैठे द्वारे-
ददा के बैला नांदिया सवारी-
तुहर मन के पूजा होथे महिना सावन-
कैसे गुजर करथो तुम गणपति गजानंद...

Posted on: Sep 13, 2019. Tags: BISELAL PATEL CG KABIRDHAM SONG

तोर उमर भुतहा नई तो आवे रे...गीत-

कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से नरेश बुनकर एक गीत सुना रहे हैं :
बईहा नार सेंगा रे-
तोर उमर भुतहा नई तो आवे रे-
कईसे के आवे बईहा नार सेंगा रे-
कईसे के आवय हनुमान-
तोर उमर भुतहा नई तो आवे रे-
उचकत आवय बईहा नार सिंगा रे-
झपटत आवय हनुमान, बईहा नार सेंगा रे...

Posted on: Sep 12, 2019. Tags: CG KABIRDHAM NARESH BUNKAR SONG

गणपति तोर मुसवा वाहन...गीत-

ग्राम-पोलमी, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से चतुरराम साहू एक गीत सुना रहे हैं :
गणपति तोर मुसवा वाहन, तोर भरोसा मा आये हवन-
दर्शन के हवैये अभिलाषी, बेटा शुभ लाभ तोर बेटी संतोषी-
तै चित्रकोटी देवता सबले पहिले तोर पूजा करिन तोला बड़का जान के-
चारो दुनिया ले घूम के तैंतिस कोटी घूमके माता-पिता ला सार जान के-
गणपति तै मुसवा वाहन, तोर भरोसा मा आये हवन-
दर्शन के हवैये अभिलाषी, बेटा शुभ लाभ तोर बेटी संतोषी...

Posted on: Sep 12, 2019. Tags: CG CHATURRAM SAHU KABIRDHAM SONG

मोर माटी के मितान, सुन मजदुर किसान...गीत-

जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से नरेश बुनकर एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहे हैं:
मोर माटी के मितान, सुन मजदुर किसान-
जुल्म अत्यचारी ला मिटाय बर चलो-
संघर्ष और निर्माण, संघर्ष और निर्माण-
भाई रखवाला किसान भोला भाला-
मेहनत कस मजदूर दुनिया बनाने वाला-
हमर गा कमाई मा दुनिया हा जियत हे-
कोन बैरी पापी हमर लहू ला पियत हे-
भाई नौ जवान चलो सीना तान-
मजदूर और किसान उठाओ गा जवान-
जुल्म अत्याचारी ला मिटाय बर करो-
संघर्ष और निर्माण, संघर्ष और निर्माण-
भाई मन फेका बांधो, बहनी मन कछोरा भीडो-
जुल्म अत्याचारी ला मिटाय बर आघू बढ़हो-
भाई नौ जवान चलो सीना तान-
मजदूर और किसान उठाओ गा जवान-
संघर्ष और निर्माण, संघर्ष और निर्माण...

Posted on: Sep 12, 2019. Tags: CG KABIRDHAM NARESH BUNKAR SONG

रामा हो मन भजो गणपति को...गीत-

ग्राम कोराल, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से बिसेलाल पटेल एक गीत सुना रहे हैं:
रामा हो मन भजो गणपति को-
दुःख दर्द मिट जाही ना रे-
गालेते सिया पति को-
बारा बजे ब्रम्हा को गा ले, एक बजे ओमकार को-
दो बजे द्वारकानाथ कहिले, तीन बजे त्रिवेणी को-
चार बजे चर भुजी सुमर ले पांच बजे परमेश्वर को-
छ: बजे छविलाल कहिले सात बजे सरस्वती को...

Posted on: Sep 09, 2019. Tags: BISELAL PATEL CG KABIRDHAM SONG

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download