दाना पोयाम खेती के समय खेती और बाकी समय शहर में काम करते हैं...कहानी-

पाउरलंका, चिंतुर मंडलम, जिला-ईस्ट गोदावरी (आंध्रप्रदेश) से भोला गांव के निवासी दाना पोयाम से चर्चा कर रहे हैं| वे बता रहे हैं| कि वे खेती का काम करते हैं| और खेती के बाद जब काम नहीं होता तो शहर में जाकर काम करते हैं| पोयाम ने तेलगू भाषा में पढाई की है, और हिंदी भाषा भी जानते हैं| 20 साल से उस गांव में रह रहे हैं| वे अपने गांव में बच्चो को पढ़ाते हैं, और स्कूल में बच्चो को प्रवेश दिलाते हैं| जिससे वे पढ़ सके|

Posted on: Jun 14, 2019. Tags: ANDHRA PRADESH BHOLA BAGHEL EAST GODAVARI STORY

इवा हो गगनमाडा गिनगिन माडा मेला ले...गोंडी गीत-

ग्राम पंचायत-लक्ष्मी पुरम, विकासखण्ड-एट्टापाका, जिला-ईस्ट गोदावरी (आंध्रप्रदेश) से सुकुले, तदनी, संतोषी एक गोंडी गीत सुना रहे हैं :
रेला-रेला, रेला-रेला, रेला-रेला रे रे ला-
इवा हो गगनमाडा गिनगिन माडा मेला ले-
लेअवा गगन नवो पुटे नानो लालो ले-
नानो ली वईया ली बुड़े नानो लालो ने...

Posted on: Jun 10, 2019. Tags: ANDHRA PRADESH EAST GODAVARI KANHAIYALAL KEWAT SONG

रे रे लयो, रे रे रेला, रेला रेला रे रे ला...गोंडी गीत-

ग्राम पंचायत-लक्ष्मी पुरम, विकासखण्ड-एटापाका, जिला-ईस्ट गोदावरी (आंध्रप्रदेश) से इटा संतोषी और इटा सुगना एक गोंडी गीत सुना रहे हैं :
रे रे लयो, रे रे रेला, रेला रेला रे रे ला-
येसे प्रभो मुंगरोसम दुर्लोसा माताने-
येसे प्रभो मनाकोसम परलोमका मतोंड-
येसे प्रभो मनाकोसम बुर्लोका वतोंड-
येसे प्रभो मनाकोसम परलोकम विष्णूडे-
यांती भक्त लेवर लोटम ता इंगा ने...

Posted on: Jun 09, 2019. Tags: ANDHRA PRADESH EAST GODAVARI KANHAIYALAL KEWAT SONG

चना दे लेये न दे, या न नका नादे...गोंडी गीत-

ग्राम-तिडीपाड़, विकासखण्ड-चिंतूर, जिला-ईस्ट गोदावरी (आंध्रप्रदेश) से लक्ष्मी अपने साथियों के साथ एक गोंडी गीत सुना रही हैं :
रे रेला रे रे रेला, रे रेला रे रे रेला-
चना दे लेये न दे, या न नका नादे-
याना याको वारा रे रे-
रे रेला रे रे रेला, रे रेला रे रे रेला...

Posted on: Jun 02, 2019. Tags: ANDHRA PRADESH EAST GODAVARI KANHAIYALAL KEWAT

आदिवासियों का पारंपरिक त्यौहार मुसियालामा-

चट्टी, जिला-ईस्ट गोदावरी (आंध्रप्रदेश) से अशोक आदिवासियों के एक त्यौहार के बारे में बता रहे हैं| मुसियालामा आदिवासियों का एक त्यौहार है| मुसियालामा एक तेलगू शब्द है| यह हर तीन साल में एक बार मनाया जाता है| जिसमे सभी शामिल होते हैं| गीत गाते है, और अपने त्यौहार को मनाते है|

Posted on: Jun 02, 2019. Tags: ANDHRA PRADESH BHAN SAHU EAST GODAVARI FESTIVAL

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download