5.6.31 Welcome to CGNet Swara

स्वास्थ्य स्वर : उच्च रक्तचाप या हाई ब्लड प्रेशर का घरेलू उपचार-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा उच्च रक्तचाप या हाई ब्लड प्रेशर का घरेलू उपचार बता रहे है, जटामासी, ब्राम्ही और अश्वगंधा का चूर्ण तीनो को बराबर मात्रा में मिला लें, उसके बाद एक-एक चम्मच चूर्ण दिन में तीन बार नियमित पानी के सांथ लेना है, इसके अलावा लहसुन की तीन कलियां प्रतिदिन सुबह-शाम भोजन के साथ खाना है, एक कौर में एक कली लेना है, इससे आराम मिल सकता है, अधिक जानकारी कर लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं, चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Oct 16, 2018. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH MUNGELI SWASTHYA SWARA

स्वास्थ्य स्वर: कटसरैया के पौधे के औषधीय गुण और उपयोग-

जिला-टीकमगढ़ (मध्यप्रदेश) से वैद्य राघवेन्द्र सिह राय कटसरैया जिसे पियाबासा के नाम से भी जाना जाता है, के औषधीय गुणो को बता रहे हैं, कटसरैया के पत्तो का रस मधू में मिलाकर दांत और मसूढो पर मालिस करने से दांतो और मसूढो से रक्त बहना बंद हो सकता है और दांत मजबूत हो सकते हैं, इसके अलावा कटसरैया के पंचांग का कल्क बनाकर तेल में धीमी आंच पर पका लें, अच्छे से पीसकर मिला ले और कपूर मिलाकर दाद, खाज, खुजली, चर्म रोग पर लगाएं इससे लाभ मिल सकता है, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं :
राघवेन्द्र सिंह राय@9424759941.

Posted on: Oct 16, 2018. Tags: MP RAGHWENDRA SWASTHYA SWARA TIKAMGARH SINGH RAI

वनांचल स्वर : पलास के पौधे का औषधीय गुण और उपयोग...

ग्राम-उबेगाँव, जिला-छिंदवाडा (मध्यप्रदेश) से माला धुर्वे पलास के पौधे के औषधीय गुण और उपयोग के बारे में बता रही हैं, पलास को पलसा और छुल्हा के नाम से भी जाना जाता है, पलसा के कंद को खोदकर निकाल लें, पानी से साफकर ले और प्रतिदिन सुबह खाली पेट सेवन करें, इससे शारीरिक दुर्बलता और कमजोरी दूरी हो सकती है, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं, पलास का पौधा हमारे आसपास आसानी से उपलब्ध हो जाता है : संपर्क नंबर@8719877544.

Posted on: Oct 16, 2018. Tags: CHHINDWADA HEALTH MALA DHURVE MP SWARA VANANCHAL

स्वास्थ्य स्वर : पीलिया बीमारी को दूर करने का घरेलू उपचार-

ग्राम-रौचंद, पोस्ट-राजनावागांव, तहसील-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य खेलन साहू पीलिया बीमारी का घरेलू उपचार बता रहे हैं, पीलिया बीमारी में आँखे, नाखून, चेहरा पीला पड़ जाता है, खून की कमी और कमजोरी आने लगती है, पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है, इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति पीपल के 5 नए पत्ते लेकर कूट लें, उसके बाद मिश्री मिलाकर शरबत बनाकर खाली पेट दिन में एक बार लगातार 5 दिन तक सेवन करें, इससे बीमारी में आराम मिल सकता है, बड़े बुजुर्गो के लिए 5 पत्ते और बच्चो के लिए 3 पत्ते का उपयोग करें, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं : खेलन साहू@7566279950.

Posted on: Oct 13, 2018. Tags: CG HEALTH JAUNDICE KABIRDHAM KHELAN SAHU SWASTHYA SWARA

स्वास्थ्य स्वर : मलेरिया और वायरल बुखार का घरेलू उपचार-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा बुखार का का घरेलू उपचार बता रहे हैं, वो चाहे मलेरिया का बुखार हो या वायरल बुखार हो, दोनो के
लिए गिलोय, नीम की छाल, अडूसा, पुर्ननवा, कुटकी, धनिया, लाल चंदन, तुलसी का पत्ता, मुनक्का सभी को लेकर 400ml पानी में मिलाकर धीमी आंच में उबाल लें, जब पानी 100 ml रह जाए, तब उसको छानकर ठण्डा कर शहद मिलाकर दिन में तीन बार सेवन करें, तीन दिन तक लगातार सेवन करने से बुखार से आराम मिल सकता है :
वैद्य चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Oct 13, 2018. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH LORMI MUNGELI SWARA SWASTHYA

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »