गुलाब खिली खिली मैं तोड़ सकूँ कैसे...गीत-

ग्राम-पूसागांव, जिला-नारायणपुर (छत्तीसगढ़) से हितेश्वरी और मनबत्ती एक गीत सुना रहे है:
गुलाब खिली खिली मैं तोड़ सकूँ कैसे-
हाथों में लगी मेहंदी मै काम करुँ कैसे-
पैर में लगी पट्टा मै चल सकूँ कैसे-
आंखो में लगी काजल मै देख सकूँ कैसे...

Posted on: Jan 22, 2020. Tags: CG HARINAM MARKO NARAYANPUR SONG

अमर हमारी धरती माता अमर हमारी गान है...कविता-

ग्राम-छिंदबेड़ा, पंचायत-भाठपाल, जिला-नरायणपुर (छत्तीसगढ़) से सरोज नेताम और प्रतिमा एक कविता सुना रहे हैं :
अमर हमारी धरती माता अमर हमारी गान हैं-
हम ना रुकेंगे हम ना झुकेंगे हम भारत की शान हैं-
देश में प्राणों से प्यारा सबकी सेवा धर्म हमारा-
भारत का उत्थान करेंगे कभी किसी से नहीं डरें-
भारत के उत्थान हैं हम भारत के शान हैं-
अमर हमारी धरती माता अमर हमारी गान है...

Posted on: Jan 10, 2020. Tags: CG HARINAM MARKO NARAYANPUR SONG

आजा राजा मामा लाया बाजा...बाल कविता-

ग्राम-मंगुरदा, जिला-बिलासपुर (छत्तीसगढ़) से हरिनाम मार्को कविता सुना रहे हैं :
आजा राजा मामा लाया बाजा-
कर मामा ढम-ढम नाच राजा छम-छम-
मचली जल की रानी है-
जीवन उसका पानी है-
हाथ लगाओ डर जायेगी-
बहार निकालो मर जायेगी-
आलू का चालू बेटा कहां गये थे-
सब्जी के टोकरी में सो रहे थे...

Posted on: Dec 14, 2019. Tags: BILASPUR CG HARINAM MARKO POEM

उठों उठों नयी संदेश दे रही दिशा दिशा...कविता-

ग्राम पंचायत-केकराखोली, तहसील-मगररोड़, जिला-धमतरी (छत्तीसगढ़) से अक्षय कुमार नेताम एक कविता सुना रहें है:
उठों उठों नयी संदेश दे रही दिशा दिशा-
खिले कमल अरुण तरुण प्रभात मुस्कुरा रहा-
गगन विकास का नवीन, साज है सजा रहा
उठो चलो बढ़ो समीर शंख है बजा रहा-
भविष्य सामने खड़ा प्रशस्त पथ बना रहा-
उठों उठों नयी संदेश दे रही दिशा दिशा...

Posted on: Nov 24, 2019. Tags: HARINAM MARKO NARAYANPUR CG