लॉकडाउन में बाहर से आया हूँ, मुझे अभी काम नहीं मिल रहा है, मदद करे...

ग्राम+पंचायत-जतरी, ब्लॉक-जवा, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से सुषमा के साथ में ब्रिजलाल बता रहे है कि वे लॉकडाउन में बाहर से आये थे और क्वारंटाइन में 14 दिन तक थे और अभी वे उनके घर वापस चले गए है उनको अभी कोई काम नहीं मिल रहा है और सरकार द्वारा 1000 रुपयें उनका खाते में नहीं आया है उनका कहना है कि काम मिलना चाहिए | इसलिए वे सीजीनेट सुनने वाले साथियों से अपील कर रहे है कि दिए नंबर पर बात कर खाते में पैसा और काम दिलवाने में मदद करे : संपर्क@8827389351, C.E.O@9407803480. (170854) NM

Posted on: Jul 06, 2020. Tags: BRIJLAL CORONA PROBLEM REWA MP SUSHMA

वनांचल स्वर : पुराने ज़माने में जब धान कोदो पैदा नहीं होता था लोग महुआ आदि ही खाते थे...

ग्राम-पेंडारी, ब्लाक-वाड्रफनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से ब्रेजलाल कुशवाह बता रहे है कि उनका गाँव जंगल के किनारे बसा हुआ है वहां से उनको जलाऊ लकड़ी मिलता है, आंवला, तेंदू, छार, बेलवा भी मिलती है पर्याप्त मात्रा में साल की लकड़ी मिलती है और उसके अलावा महुआ भी मिलता है उसका उपयोग दारु बनाने और उसको पीसकर लाटा बनाकर भी खाया जाता है और ढेकी से कूटकर लड्डू बनाकर सुखाया जाता है और फिर खाया जाता है| पुराने ज़माने जब धान कोदो पैदा नहीं होता था उस समय लोग महुआ खाकर जीवित रहते थे| महुआ का उपयोग आज भी किया जाता है. बाबूलाल नेटी@9669083404.

Posted on: Jun 07, 2018. Tags: BRIJLAL KUSHWAH VANANCHAL SWARA