5.6.31 Welcome to CGNet Swara

नींदों नान्दा करसा रोये नोनी नींदों...गोंडी गीत

ग्राम-बोंदानार, विकासखंड-अंतागढ़, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से बुदनी, सुमित्रा और शांति एक गोंडी गीत सुना रहे है:
री री लोयो रीलो री री लो री लोय-
नींदों नान्दा करसा रोये नोनी नींदों-
नावा करसा निया रोये नोनी-
नीवे नायो नाय कायो कांदा-
री री लोयो रीलो री री लो री लोय...

Posted on: Aug 10, 2018. Tags: BUDNI CG GONDI SONG KANKER SHANTI SUMITRA

मन करसी वन्तान मन करसी वन्तान...गोंडी गीत

ग्राम पंचायत-मेढ़ो, तहसील-दुर्गकोंदल, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़ ) से संतोषी गावडे और शांति वट्टी एक गोंडी गीत सुना रहे है, इस गीत को जब लड़का लड़की को चूड़ियाँ पहनाता है तब गाया जाता है:
रीलो यो रीलो रीलो रीलो रीलो यो-
रीलो यो रीलो रीलो रीलो रीलो यो-
मन करसी वन्तान मन करसी वन्तान-
रीलो यो रीलो रीलो रीलो रीलो यो-
बारगा बारगा ततान बारगा बारगा ततान...

Posted on: Jul 27, 2018. Tags: GONDI SONG KANKER SANTOSHI GAWDE SHANTI WATTI

इस जमाने में नारियो का झंडा ऊँचा उठाना है...महिला समूह गीत

ग्राम-सालेभाट, विकासखंड-नरहरपुर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ) से शांति यादव, कुवरबती साहू, अनीता साहू और राधा यादव एक महिला समूह गीत सुना रहे है:
इस जमाने में नारियो का झंडा ऊँचा उठाना है-
ए दी तुम नारी हो तो हमारा साथ दो – चाहे तुम अमीर हो, चाहे तुम ग़रीब हो – ए दी तुम नारी हो तो हमारा साथ दो – इस जमाने में नारियो का झंडा ऊचा उठाना है...

Posted on: Jul 24, 2018. Tags: ANITA SHAU HINDI SONG KANKER KUWARBATI SAHU SHANTI YADAV

निकुन लेवाय, लेवा तुन टंडीले...गोंडी गीत

ग्राम-लोह्त्तर, पंचायत-बोलंडी, तहसील-अंतागढ़, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से शांति वट्टी, संतोषी गावडे और रामबाई कुरेटी एक गोंडी गीत सुना रहे है: इस गीत को कोलांग महोत्सव के समय गोटुल में गाया जाता है:
रे रे लोयो रे रेला रेला रे लोयो रे रेला-
निकुन लेवाय, लेवा तुन टंडीले-
किलोर वस्ताये कवर वसेताये-
सेंग जोड़-जोड़ लेयो रो जीवा उडिता-
बदिर बूम तोर वातोर नुनिले-
किलोर वस्ताये कवर वसेताये-
सेंग जोड़-जोड़ लेयो रो जीवा उडिता...

Posted on: Jul 23, 2018. Tags: GONDI SONG KANKER RAMBAI KURETI SANTOSHI GAWDE SHANTI WATTI

जागा जागा रे आदिवासी भाई बहन माँ...जागरूकता गीत

ग्राम-तिकाड़ी पोस्ट-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखण्ड) से शांति तिर्की एक जागरूकता गीत सुना रही है:
जागा जागा रे आदिवासी भाई बहन माँ-
सामाज की सेवा में जागो-
मेरे भाई जागो मेरी बहनो-
रे जागो रे जागो जाग उठो मेरे जावानो जागो-

रे जगा रे जागो जाग उठो मेरे युवतियों
दलित की सेवा में जागो मेरे जावानो जागो मेरी युवतियों-
जागो रे जागो जाग उठो मेरे जावानो-
जागो रे जागो जाग उठो मेरी युवतियों...

Posted on: Jun 21, 2018. Tags: SHANTI TIRKI

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »