करमा गीत : हायरे हाय बंगला सुना है यार...

जमशेदपुर टाटा (झारखंड) से एच.डी. गाँधी और उनके साथ है तहसील-वैहर, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) के निवासी मनसाराम मंडावी एक करमा गीत सुना रहें है:
हायरे हाय बंगला सुना है यार-
काहा गयें घर वालें बंगला सुना है रे-
कहर जबलपुर के दक्षिण में उचें पहाड़ दिखायें-
ये पथर पर महल बना है मदन मरावी बनवायें-
रामनगरगढ़ मोती महल को हृदय शाह बनवायें-
बावनगढ़ राम शाह के, चौरा गढ़ सर नाम-
काहा गयें घर वालें बंगला सुना है रे-
नाजीगढ़ ते काम राजा, धमधा गढ़ मरकाम-
केरला गढ़ के करौव राजा, गढ़ मंडला मरावी-
काहा गयें घर वालें बंगला सुना है रे-
हायरे हाय बंगला सुना है यार...

Posted on: Nov 23, 2019. Tags: BALAGHAT MP MANSAHRAM MARAVI

impact : कई बार आवेदन करने के बाद भी लागत का पैसा नहीं मिल रहा था, संदेश रिकॉर्ड करने के बाद पैसा मिल गया..

ग्राम-धिरी, पोस्ट-जैतपुरी, तहसील-बैहर, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) से प्रदीप कुमार बता रहे है, उन्होंने अपने लागत से शौचालय बनवाया था| जिसका पैसा नहीं मिल पा रहा था| इस सन्दर्भ में सरपंच, सचिव के पास कई बार आवेदन दिये, लेकिन कोई कारवाही नहीं हो रही थी| तब उन्होंने तीन महीना पहले अपनी समस्या को सीजीनेट में रिकॉर्ड किया था| जिसके बाद अब पैसा मिल गया है| इसलिये वे सीजीनेट के साथियों और संबंधित अधिकारियों को धन्यवाद दे रहे हैं, जिनकी मदद से उनकी समस्या हल हो चुकी है | प्रदीप कुमार@6264510518.

Posted on: Mar 29, 2019. Tags: BALAGHAT IMPACT STORY MP PRADIP KUMAR

Impact: Got my due wages from years after report on CGnet Swara, thanks...

ग्राम-धीरी, पोस्ट-जैतपुरी, तहसील-बैहर, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) से उत्तम सिंह उईके उनके साथी जगदीश कुमार मरकाम को बता रहे हैं, कि वे गाँव के वार्ड क्रमांक 5 में रहते हैं, उन्होंने 2015-16 में सरकारी योजना के अंतर्गत मेढ़ बंधान में काम किया था, जिसका मजदूरी भुगतान नही हो पा रहा था और कोई अधिकारी कई सालों से मदद नहीं कर रहे थे, तब उन्होंने 2 महीने पहले सीजीनेट में अपनी समस्या को रिकॉर्ड कराया, जिसके बाद उनका मजदूरी भुगतान हो गया है, वे बहुत खुश हैं इसलिए सीजीनेट के सांथियो और संबंधित अधिकारियों को धन्यवाद दे रहे हैं जिन्होंने उनकी मदद की, वे कह रहे हैं कि गरीबों की ऐसे ही कृपया मदद करते रहें | जगदीश कुमार मरकाम@9171543176.

Posted on: Aug 10, 2018. Tags: BALAGHAT IMPACT JAGDISH KUMAR MARKAM MP

जय सेवा-जय सेवा बोलो रे...गोंडी गीत

ग्राम-लामता, जिला-बालाघाट (म.प्र.) से ब्रजलाल टेकाम एक गोंडी गीत सुना रहे है, इस गीत में गोंडी भाषा की विशेषता के बारे में बताया गया है:
जय सेवा-जय सेवा बोलो रे-
जय सेवा-जय सेवा बोलो रे-
अनि वनका ते मावा गोंडी भाषा-
जय सेवा-जय सेवा इंटरो-
अनि वनका ते मावा गोंडी भाषा-
जय सेवा-जय सेवा इंटरो-
भैया जय-सेवा जय-सेवा इंटरो-
जय सेवा-जय सेवा सबतुन इन्दाना-
गोंडी धरम तुन हैय जो पुन्दाना-
जय सेवा-जय सेवा सबतुन इन्दाना-
गोंडी धरम तुन हैय जो पुन्दाना-
अनि गोंडी भाषा काक सब अंटरो-
अनि वनका ते मावा गोंडी भाषा-
जय सेवा-जय सेवा...
ब्रजलाल टेकाम@ 9685526118.

Posted on: Jul 25, 2018. Tags: BALAGHAT BRAJLAL TEKAM GONDI SONG

झिमिर-झिमिर पीर वाईता,ढोड़ा उषा वाता...गोंडी गीत-

ग्राम-लामता, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) से ब्रजलाल टेकाम एक पारम्परिक गोंडी लोकगीत सुना रहे हैं. इस गीत गीत में जीजा अपनी शाली से हंसी-ठिठोली करते हुए गाने में कुछ कहना चाह रही है:
झिमिर-झिमिर पीर वाईता,ढोड़ा उषा वाता-
अन सांगो घुस्सूर बैसी, बोट्टे देहकी लाता-
नावा मामा ना टूरी वो, केंजा नवा गोंडी पाटा-
पुपुल दाड़ी, पुपुल दाड़ी, व्ईयो हिल्ले बाड़ी-
अनि अन सांगो, जल्दी-जल्दी छूटे मायल गाड़ी-
कनकी ता गाटो, चिरोटा ता भाजी-
अनि आलू भट्टा परो, सांगो-अरसिता गाजी-
ठेका ते ठेका अनि, तोड़ी ता ठेका-
ना संग दे ऐन्दिकी ते, पैसा नना सेका-
नावा मामा ना टूरी वो...
ब्रजलाल टेकाम@9685526118.

Posted on: Jul 22, 2018. Tags: BALAGHAT BRAJLAL TEKAM GONDI SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download