5.6.31 Welcome to CGNet Swara

Impact: Got my due wages from years after report on CGnet Swara, thanks...

ग्राम-धीरी, पोस्ट-जैतपुरी, तहसील-बैहर, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) से उत्तम सिंह उईके उनके साथी जगदीश कुमार मरकाम को बता रहे हैं, कि वे गाँव के वार्ड क्रमांक 5 में रहते हैं, उन्होंने 2015-16 में सरकारी योजना के अंतर्गत मेढ़ बंधान में काम किया था, जिसका मजदूरी भुगतान नही हो पा रहा था और कोई अधिकारी कई सालों से मदद नहीं कर रहे थे, तब उन्होंने 2 महीने पहले सीजीनेट में अपनी समस्या को रिकॉर्ड कराया, जिसके बाद उनका मजदूरी भुगतान हो गया है, वे बहुत खुश हैं इसलिए सीजीनेट के सांथियो और संबंधित अधिकारियों को धन्यवाद दे रहे हैं जिन्होंने उनकी मदद की, वे कह रहे हैं कि गरीबों की ऐसे ही कृपया मदद करते रहें | जगदीश कुमार मरकाम@9171543176.

Posted on: Aug 10, 2018. Tags: BALAGHAT IMPACT JAGDISH KUMAR MARKAM MP

जय सेवा-जय सेवा बोलो रे...गोंडी गीत

ग्राम-लामता, जिला-बालाघाट (म.प्र.) से ब्रजलाल टेकाम एक गोंडी गीत सुना रहे है, इस गीत में गोंडी भाषा की विशेषता के बारे में बताया गया है:
जय सेवा-जय सेवा बोलो रे-
जय सेवा-जय सेवा बोलो रे-
अनि वनका ते मावा गोंडी भाषा-
जय सेवा-जय सेवा इंटरो-
अनि वनका ते मावा गोंडी भाषा-
जय सेवा-जय सेवा इंटरो-
भैया जय-सेवा जय-सेवा इंटरो-
जय सेवा-जय सेवा सबतुन इन्दाना-
गोंडी धरम तुन हैय जो पुन्दाना-
जय सेवा-जय सेवा सबतुन इन्दाना-
गोंडी धरम तुन हैय जो पुन्दाना-
अनि गोंडी भाषा काक सब अंटरो-
अनि वनका ते मावा गोंडी भाषा-
जय सेवा-जय सेवा...
ब्रजलाल टेकाम@ 9685526118.

Posted on: Jul 25, 2018. Tags: BALAGHAT BRAJLAL TEKAM GONDI SONG

झिमिर-झिमिर पीर वाईता,ढोड़ा उषा वाता...गोंडी गीत-

ग्राम-लामता, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) से ब्रजलाल टेकाम एक पारम्परिक गोंडी लोकगीत सुना रहे हैं. इस गीत गीत में जीजा अपनी शाली से हंसी-ठिठोली करते हुए गाने में कुछ कहना चाह रही है:
झिमिर-झिमिर पीर वाईता,ढोड़ा उषा वाता-
अन सांगो घुस्सूर बैसी, बोट्टे देहकी लाता-
नावा मामा ना टूरी वो, केंजा नवा गोंडी पाटा-
पुपुल दाड़ी, पुपुल दाड़ी, व्ईयो हिल्ले बाड़ी-
अनि अन सांगो, जल्दी-जल्दी छूटे मायल गाड़ी-
कनकी ता गाटो, चिरोटा ता भाजी-
अनि आलू भट्टा परो, सांगो-अरसिता गाजी-
ठेका ते ठेका अनि, तोड़ी ता ठेका-
ना संग दे ऐन्दिकी ते, पैसा नना सेका-
नावा मामा ना टूरी वो...
ब्रजलाल टेकाम@9685526118.

Posted on: Jul 22, 2018. Tags: BALAGHAT BRAJLAL TEKAM GONDI SONG

मरका पर्रो कांवा ना डेरा...गोंडी गीत-

ग्राम-लामता, जिला-बालाघाट (मध्यप्रदेश) से ब्रजलाल टेकाम एक गोंडी गीत सुना रहे है । इस गीत के माध्यम से बताया गया है कि कौवा अपने बच्चों के लिए आम के पेड़ पर गोदा बनाता है, उसी पर निवास करता है और किस प्रकार से अपने बच्चो के लिए दाना चुन चुनकर लाता हैं तथा खिलाता है:
मरका पर्रो कांवा ना डेरा-
मरका पर्रो कांवा ना डेरा रो भाई-
मरका पर्रो कांवा ना डेरा-
मरका मडा ते गा, ताना हैई डेरा-
घास सनकाडी ता, बने किता घेरा-
अनी अगा ताना मंदा बसेरा रो भैया-
चुडू-चुडू चंव्वा, अनी चुडू-चुडू पूता-
चंव्वा नू तिह्ताता, वन्जी अनी कूता-
अनी मरका पर्रो ताना, बसेरा रो भैया-
वले-वले लख अन्ता, तिन्दाले गा दाना-
दिन अर्रे वाईता, ताना ठिकाना-
अनी मरका पर्रो ताना, बसेरा रो भैया-
मरका पर्रो कांवा ना डेरा-
मरका पर्रो कांवा ना...
ब्रजलाल टेकाम@9685526118.

Posted on: Jul 21, 2018. Tags: BALAGHAT BRAJLAL TEKAM GONDI SONG

Balaghat Bultoo(Bluetooth) Radio in Dehati language: 21st February 2018...

Today Mahendra Singh and Sarla Shrivas are presenting Bultoo Radio Program in Dehati language in this latest edition of Bultoo radio discussing issues from Balaghat district in Madhya Pradesh. Villagers use their mobile phones to record these songs and reports. They call 08050068000 to record. Now this program can be downloaded by people from their Gram Panchayat office if it has Broadband or from a download center nearby. They can also get it from someone nearby with smartphone and internet and then via Bluetooth.

Posted on: Feb 21, 2018. Tags: BALAGHAT MAHENDRA SINGH SARLA SHRIVAS

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »