भोले तेरे चरणों की राधे तेरे चरणों की...भक्ति गीत-

अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से सूर्यप्रताप सिंह एक गीत सुना रहे हैं :
भोले तेरे चरणों की राधे तेरे चरणों की-
एक बूंद जो मिल जाये-
राधे तेरे चरणों की, श्यामा तेरे चरणों की-
मेरा मन बड़ा चंचल है समझाये नहीं समझे-
जितना इसे समझाऊँ, उतना ही मचलजाये-
भोले तेरे चरणों की, श्यामा तेरे चरणों की-
तुमसे ही तेरी रहमत, दिन रात बरसती है
एक बूंद जो मिल जाये कलि जीवन का खिल जाये...

Posted on: Jan 10, 2020. Tags: ANUPPUR MP SONG SURYPRATAP SINGH

शिवगरु तेरा प्यार पुराना लगता है...शिव भजन-

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-पसला, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से लल्लू केवट साथ में धनेशिया कुवर एक शिव भजन सुना रहें है:
पागल मन मा दिल दीवाना लगता है-
शिवगरु तेरा प्यार पुराना लगता है-
शिव की दया फल बटटी है तुम जानों-
दया करेंगें वो सीस तुम गुरु जो हम सकेंगे-
माँ के गर्भ से गुरु चरण से दूरी नहीं-
शिवगरु तेरा प्यार पुराना लगता है...

Posted on: Dec 25, 2019. Tags: ANUPPUR LALLU KEWAT MP SONG

वंदना करो मै वंदना करो वंदना करो...वंदना गीत-

ग्राम-उमरिया, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से रेखा उइके एक वंदना गीत सुना रहे है:
वंदना करो मै वंदना करो वंदना करो-
वन्दत हो मै शिवा गुरु ला मै वंदना करो-
कमल ले चरण ला चरण कमल का वंदना करो-
शिवा गुरु के चरण के कमल ला वंदना करो-
मैया भवानी के चरण के कमल ला वंदना करो-
हरिंद्र भैया रण के कमल ला वंदना करो-
वंदना करो मै वंदना करो वंदना करो...

Posted on: Dec 25, 2019. Tags: ANUPPUR MP REKHA UIKEY SONG

तोर मोर प्यार हा गोरी देख तो बढ़ गये है...छत्तीसगढ़ी गीत-

ग्राम-ताराडाड, जिला-अनुपपुर(मध्यप्रदेश) से बाबूलाल नेटी साथ में संतलाल गायक एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहे हैं:
तोर मोर प्यार हा गोरी देख तो बढ़ गये है-
संतलाल दीवाना तोर बर हो गे हे-
तोर खातिर मैं जीयत हव तोर खातिर मैं जी हूँ वो-
जब तक तोला नई पहुँ तब तक दारू पी हव वो-
तोर हंसाई मुस्की मोला लुटे हे हाय-
एक पल बिना बात करे मोला चयन नही तो आये वो...

Posted on: Dec 23, 2019. Tags: ANUPPUR BABULALA NETI MP SONG

ऊपर पंखा चलती है नीचे बेबी सोती है...बाल कविता-

ग्राम-रक्सा, पोस्ट-फुनगा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से दिब्या जोगी एक कविता सुना रही हैं:
ऊपर पंखा चलती है नीचे, बेबी सोती है-
सोते-सोते भूख लगी, खाले बेटा मुमफली-
मुमफली में दाना नहीं, तुम हमारे मामा नहीं-
नाना गये दिल्ली, दिल्ली से लाये बिल्ली-
बिल्ली मारी लात, चल पड़ी बारात-
बारात में दो बच्चे मंमी पापा अच्छे...

Posted on: Dec 15, 2019. Tags: ANUPPUR DIVYA JOGI MP POEM

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download