No electricity in our part of village, officers don't listen, Pls call them to help...

We are living here from 20 years but there is no electricity in our part of village and we are forced to live in the dark. This was complained to Sarpanch but he doesn’t respond says Bhaiyalal Rajwade from Madneshwarpur village and panchayat in Ramanujnagar block of Surajpur district in Chhattisgarh to Chandrika. You are requested to call Electrict dept Officer@9424188584 and put presser on authorities.
Villager@9977803864.

Posted on: Aug 17, 2015. Tags: CHANDRIKA ELECTRICITY

Got wells dug last year after govt sanction, no payment yet, can't pay laborers...

Prakash Chandrika is calling from Kudwad village and Panchayat in Sondwa block of Alirajpur district in Madhya Pradesh and talking to villagers who tell him that 10 wells were constructed under Kapildhara scheme in 2014 but beneficiary are waiting for their money and they are unable to pay laborers. They have complained to officers but no one is paying attention. You are requested to call Collector@9926881755.Prakash Chandrika@9424580951

Posted on: Jan 12, 2015. Tags: Prakash Chandrika

आई हैं हम सब बहनें, महिला दिवस मनाने ...

आई है रे आई है, आई है रे आई है
आई हैं हम सब बहनें , महिला दिवस मनाने
आठ मार्च मनाने हो अपना दिन मनाने
अरे आई है रे ````````
खाएंगे आज हम कसमें
मांगेंगे हक़ हम अपने
मांगेंगे हक़ हम अपने
लड़के लेंगे हक़ हम अपने
अरे आई है…………
जान ली है उनकी बातें
जो हमको हैं बहकाते
जो हमको हैं बहकाते
और आपस में लड़ाते
अरे आई है..........
कर लेंगे अब हम एका
और नाश करें जुर्मों का
नाश करें जुर्मों का
बेड़ा पार करें बहनों का
अरे आई है ………।
नाचेंगे हम आज मिलकर
गाएंगे हम आज मिलकर
गाएंगे हम आज मिलकर
धूम मचाएंगे मिलकर
आई है रे आई है, आई है रे आई है
आई हैं हम सब बहनें , महिला दिवस मनाने
आठ मार्च मनाने हो अपना दिन मनाने
अरे आई है ……।

Posted on: Mar 09, 2014. Tags: Chandrika Kaushal

मोर माटी के मितान, चल मज़दूर और किसान...

मोर माटी के मितान

चल मज़दूर और किसान
ज़ुल्म अत्याचार ला मिटाए बर करो
संघर्ष और निर्माण

ये धरती के रखवाला किसान भोलाभाला
मेहनतकश मज़दूर दुनिया बनाने वाला
हमर गा कमाई में दुनिया हर जीयत हे
कौन पापी बैरी हमर लहू ला पीयत हे
भाई नौजवान, सुनो गा किसान
ज़ुल्म अत्याचार ला मिटाए बर करो
संघर्ष और निर्माण

खेती खार सुखावत हे, मशीन काम नंगावत हे
लइका मन के ज़िंदगी ला कौन डहर रेंगत हे
स्कूल मा मास्टर नई हे, अस्पताल में दवा नई हे
खेत बर पानी नई हे, इहां सुद्ध हवा नई हे
लइका औ सियान जागो गा मितान
ज़ुल्म अत्याचार ला मिटाए बर करो
संघर्ष और निर्माण

Posted on: Nov 25, 2010. Tags: Chandrika Kaushal

« View Newer Reports