जावत हो दाई मैहा दुनियाँ ला छोड़ के.....गीत

ग्राम पंचायत-केरलापाल, जिला-नरायणपुर (छत्तीसगढ़) से प्रदीप जोगी साथ में संगीता कचलाम, रिकेश्वरी जैन, चांदनी जैन एक गीत सुना रहें हैं:
जावत हो दाई मैहा दुनियाँ ला छोड़ के-
दाई दादा भाई बहनी के, नाता ला तोड़ के-
संगी संगवारी मन ला आखरी जोहार गा-
कब उड़ जाही परेवना नही पाहू पार गा-
ले जाहू खांध में बोह के नदियाँ कछार गा-
जावत हो दाई मैहा दुनियाँ ला छोड़ के....

Posted on: Dec 03, 2019. Tags: NARAYANPUR CG PRDEEP SONG JOGI

देवी गीत : हे शारदे माँ, अज्ञानता से हमें तार दे माँ...

जिला-नरायणपुर (छत्तीसगढ़) से सविता दुग्गा साथ में भुनेश्वरी एक गाना सुना रही है:
हे शारदे माँ, अज्ञानता से हमें तार दे माँ-
तू स्वर की देवी ये संगीत तुझ से-
हर शब्द तेरा है हर गीत तुझ से-
वेदों की भाषा प्रणों की वाणी-
हम तो जाने हम भी तो समझें-
हमको उजालों का संसार दे माँ-
हे शारदे माँ, अज्ञानता से हमें तार दे माँ...

Posted on: Dec 02, 2019. Tags: NARAYANPUR CG SAVITA DUGGA SONG

गोंडी गीत : रे रे लो यो रेला रेला, रे रे लो यो रेला रेला...

ग्राम-कोडोनार, पंचायत-अंकुढ़, जिला-नारायणपुर (छत्तीसगढ़) से गीता और उनका साथ है ग्रामीण युवती पुनाय, रमेश हुड्डा, रजनी वड्डे एक गोंडी गीत सुना रहे है:
रे रे लो यो रेला रेला, रे रे लो यो रेला रेला-
जाति कन्या कोरी ई लोर, जाति कन्याम कोरी ई लोर-
जाति कन्या कोरी ई, लोर दीदी लाल, लाल-
लाल, लाल तड्मी ते दीदी कन्या दायका-
रे रे लो यो रेला रेला, रे रे लो यो रेला रेला...

Posted on: Dec 02, 2019. Tags: GEETA GONDI SONG NARAYANPUR CG

प्रार्थना : उठ जाग मुसाफिर भोर भई, अब रैन कहाँ जो सोवत है...

ग्राम पंचायत-बम्हनी, जिला-नरायणपुर (छत्तीसगढ़) से चंद्रभान सिंह साथ में संजना, कुमारी सुनीता, अनीता एक प्रार्थना सुना रहें हैं:
उठ जाग मुसाफिर भोर भई, अब रैन कहाँ जो सोवत है-
जो सोवत है सो खोवत है, जो जगत है सोई पावत है-
नींद से अखियाँ खोल जरा, और अपने प्रभु में ध्यान लगा-
यह प्रीत कारन की रीत नहीं, रब जागत है तू सोवत है-
नदान भुख्त कर नित्यत नि ये पापी पाप में चैन कहा-
जो कल करना सो आज करले जो आज करे सो अभी...

Posted on: Dec 01, 2019. Tags: CHANDRABHAN SINGH NARAYNPUR CG SONG

छत्तीसगढ़ी गीत : कजरैली तोर नैना पतरैली तोर नैना...

ग्राम-कोट्या, थाना-प्रतापपुर, जिला-सुरजपुर (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहें है:
कजरैली तोर नैना पतरैली तोर नैना-
काबर दिसथे मन हर उदास-
फुदकी-फुदकी मिर्जा चरे फुलवारी-
का कहों रे मिर्जा राम नई यें घरे-
काबर दिसथे मन हर उदास कजरैली मोर मैना-
कजरैली तोर नैना पतरैली तोर नैना...

Posted on: Dec 01, 2019. Tags: MEWALAL DEVANGAN SONG SURAJPUR CG

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download