हे सोच समझ कर चल मुसाफिर...गीत-

हिसार (हरियाणा) से मोहनलाल एक गीत सुना रहे हैं:
हे सोच समझ कर चल मुसाफिर-
ये मुरख देश पराया रे – रह जगत देश के पूजे रे-
तेरा बरने आया रे-
सोच समझ कर चल मुसाफिर...

Posted on: Feb 01, 2021. Tags: HARYANA HISAR MOHAN LAL SONG

हमारे गांव से किलोमीटर तक कच्ची सड़क है, बरसात में बहुत दिक्कत हो जाती है, कोई सुनता नहीं...

ग्राम-धुरसी, पंचायत-कान्दावानी, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से ज्ञान सिंह और मोहन लाल बता रहे हैं कि गांव के वार्ड क्रमांक 11 में कच्ची सड़क है, जिसके कारण बारिश के समय रास्ते में कीचड़, गड्ढे हो जा रहे है, लोगों को आने जाने में दिक्कत होती है, मेन रोड से कच्ची सड़क की दूरी 1 किलोमीटर है, समस्या के निराकरण के लिए उन्होंने पंचायत के बैठकों में अपनी बात को रखा लेकिन अधिकारी नजरअंदाज कर दे रहे हैं इसलिए वे सीजीनेट के सांथियो से अपील कर रहे हैं कि दिए गए नंबरों बात कर समस्या का निराकरण करने में मदद करें :
सचिव@9406066611, CEO@9669625077, SDM@7587202092. संपर्क नंबर@8085182856.

Posted on: Jul 26, 2018. Tags: GYAN SINGH MOHAN LAL ROAD PROBLEM SONG VICTIMS REGISTER

मिसरी को बाग़ लगा दे रसिया...बांसुरी पर राजस्थानी गीत

मोहनलाल दृष्टिबाधित हैं, उनको आँखों से दिखाई नहीं देता पर संगीत का बड़ा शौक है और उनका सबसे प्रिय यन्त्र है बांसुरी| हरियाणा में रहते हैं | आज बांसुरी पर एक धुन सुना रहे हैं यह धुन राजस्थानी गीत मिसरी को बाग़ लगा दे रसिया पर आधारित है...

Posted on: Jul 18, 2016. Tags: MOHAN LAL SONG VICTIMS REGISTER

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download