स्वास्थ्य स्वर : नाभि से संबंधित जानकारी...

भिलाई (छत्तीसगढ़) से डॉ. रविंद्र कुमार सोनी नाभि के खिसकने पर होने वाली समस्या के बारे में बता रहे हैं| नाभि के खिसकने से बड़ी बीमारियों का जन्म होता है इसलिये ऐसा होने पर वापस से उसे केंद्र में लाना अवश्यक होता है, तभी बीमारी से आराम मिल सकता है| संबंधित विषय पर जानकारी के लिये दिये नंबर पर संपर्क कर सकते हैं| संपर्क नंबर@9300491335. (AR)

Posted on: Oct 26, 2020. Tags: HEALTH DEPARTMENT

स्वास्थ्य स्वर : खांसी ठीक करने का घरेलू नुस्खा...

ग्राम-रनई, थाना-पटना, जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से वैद्य केदारनाथ पटेल खासी के लिये घरेलू नुस्खा बता रहे हैं| चौथाई चम्मच अदरक का रस, आक के पत्ते का भस्म थोड़ा लें, उसके बाद दोनों को शहद में मिला लें| उसके बाद बच्चे को दिन में तीन बार चटायें, इससे खांसी से राहत मिल सकता है| संबंधित विषय पर जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं| संपर्क नंबर@9826040015. (AR)

Posted on: Oct 26, 2020. Tags: HEALTH DEPARTMENT

स्वास्थ्य स्वर : किसी प्रकार की कोई घाव हो जाने पर वनौषधि उपचार बता रहें हैं...

ग्राम-तीरथगढ़ (कोटवार) ब्लाक-दरभा, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) से कन्हैयालाल और उनके साथ हैं तिलक राम बघेल (वैद्यराज) स्वास्थ्य से जुडी सन्देश बता रहें हैं कोई व्यक्ति को अगर लोहे या पत्थर लग कट कर घाव हो गया हो टिटनेस (इंजेक्शन) लगवा कर घाव को डेटॉल से धोकर उसी जगह पर जंगल से लाया गया जड़ी-बूटी दवाई को बाँध के ते हैं इस प्रकार से इलाज करते हैं इस प्रकार से इलाज करके करीब पांच लोगो को ठीक किये हैं इलाज करके की कोई चार्ज नही लेते हैं जनहित के लिए लोगों की सेवा करते हैं. अधिक जानकारी के लिए संपर्क@9301042372. RK

Posted on: Oct 25, 2020. Tags: HEALTH DEPARTMENT

स्वास्थ्य स्वर : उल्टी को रोकने के घरेलू उपाय...

प्रयाग विहार, मोतीनगर, रायपुर (छत्तीसगढ़) से वैद्य एच डी गाँधी उल्टी रोकने के घरेलू उपाय बता रहे हैं, सभी स्त्री, पुरुष, किशोर सभी को उल्टी आती है, 5 ग्राम तुलसी का रस, 1 इलायची का चूर्ण बनाकर शहद में मिलाकर दिन में 3-4 बार सेवन करने से लाभ होती है| चावल दाल की खिचड़ी में नमक डालकर खाना चाहिये इससे लाभ होती है|अधिक जानकारी के लिये@9111061399.

Posted on: Oct 23, 2020. Tags: HEALTH DEPARTMENT

स्वास्थ्य स्वर : नाय की जड़ी बूटी से ज्वर बुखार का उपचार-

जिला-टीकमगढ़ मध्यप्रदेश से वैद्य राघवेंद्र सिंह राय आज हम लोगो को ज्वर बुखार का एक देशी जड़ी बूटी नुस्खा बता रहे है आज कल खेतो में नायबूटी पाई जाती है इसको नाय भी कहते है | इसका छोटा सा पौधा होता है और पत्ती नुकीली छोटी पतली-पतली हुआ करती है | इसका फूल सफेद होता है | इसको उखाड़कर सुखाकर रख लेवे आवश्यकता पड़ने पर आधा चम्मच चूर्ण को आधा गिलास पानी में उबाले और जब ठीक से उबल जाये तब ठण्डा कर लेवे और सुबह शाम भोजन के उपरांत सेवन कराने से दो या तीन दिन में ज्वर बुखार में लाभ प्राप्त होगा | नाय बूटी को कहीं-कही नाइ दमदरी भी कहते है | अधिक जानकारी के लिये संपर्क नंबर@9519520931.

Posted on: Oct 23, 2020. Tags: HEALTH DEPARTMENT

View Older Reports »