5.6.31 Welcome to CGNet Swara

स्वस्थ्य स्वर : मुनगा के उपयोग और लाभ-

ग्राम-उमरखोही, पुरानी बस्ती, ब्लाक-गौरेला, जिला-बिलासपुर (छत्तीसगढ़) से धनसिंह मरावी मुनगा के उपयोग को बता रहे हैं, इसे सहजन के नाम से भी जाना जाता है, मुनगा के पत्ते और उसके फल को सब्जी के रूप में उपयोग करते हैं, मुनगा के बीज से तेल निकला जाता है, जिसे सब्जी पकाने में उपयोग किया जाता है, चार किलो बीज से 1 किलो तेल निकल सकता है, ये गांव में आसानी से उपलब्ध हो जाता है, मुनगा स्वास्थ्य के लिए लाभ दायक है, इसका उपयोग कर लाभ ले सकते हैं : संपर्क नंबर@7692032264.

Posted on: Oct 09, 2018. Tags: BILASPUR CG DRUMSTICK GANESH AYAM GAURELA HEALTH

तीनपा के तीन पाली झय करबे हिम्मत खाली...छत्तीसगढ़ी कर्मा गीत-

ग्राम पंचायत-डाहीबहरा, विकासखण्ड-गौरेला, जिला-बिलासपुर (छतीसगढ़) से अमृत बाई एक कर्मा गीत सुना रही हैं :
तीनपा के तीन पाली झय करबे हिम्मत खाली-
जिंदगी चलाये ला परही तोला रे-
मछरी मर गय, मछरी गय, कलप-कलप जिव जाये हाय-
हाय-हाय कलप कलप जीव जाए-
कोऊ के मुह मा काट गड़ गय कलप-कलप जिव जाये रे-
बलिहारी के दाना आय, टाहा के ले जाबो बिलासपुर मा रे...

Posted on: Oct 09, 2018. Tags: BILASPUR CG CHHATTISGARHI GANESH AYAM GAURELA KARMA SONG

हय रे पीया यहा बैमान खुदसी-खुदसी जिव ला ले...सरगुजिया फागुन गीत

ग्राम पंचायत-बेकारीडांड, विकासखंड-ओड्गी, जिला-सुरजपुर, (छत्तीसगढ़ी) से गणेश सिंह आयाम सरगुजिया भाषा में एक फागुन गीत सुना रहे हैं:
नही तो लिखे नही पढे ये नही कलम धरे-
कलम धरत मोके लाज लागे-
काला लिख के दिखांव खुदसी-खुदसी जिव ला ले-
हय रे पीया यहा बैमान खुदसी-खुदसी जिव ला ले-
नही तो लिखे नही पाढे ये नही कलम चलाय-
कलम चलते मोला लाज लागे...

Posted on: Sep 17, 2018. Tags: CG FAGUN GANESH SINGH AYAM ODGI SARGUJIHA SONG SURAJPUR

विरल-विरल तुरी उमर चितोरी...गोंडी बाल गीत

ग्राम-पंचायत-बड़ेबेटिया, विकासखंड-कोयलीबेडा, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से स्कूल की कक्षा 3 की छात्रा कुमारी लिलिमा उसेंडी एक गोंडी गीत सुना रही हैं:
विरल-विरल तुरी उमर चितोरी-
तनी उम्र मार-मार चल चितोरी-
बेंड बाजा मोके पडला मू-
ओ बेंड बाजा-
विरल-विरल तुरी उमर चितोरी-
बेंड बाजा मोके पडला मू-
तनी उम्र मार -मार चल चितोरी...

Posted on: Sep 17, 2018. Tags: CG CHILDREN GANESH AYAM GONDI KANKER KOELIBEDA SONG

तिना नामोर नानो रे नानो रे ये ये ये...गोंडी गीत...

ग्राम पंचायत-ताडवाली, विकासखण्ड-कोयलीबेडा, जिला उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से गणेश आयाम के साथ गाँव के ग्रामीण गोंडी भाषा में एक गीत सुना रहे हैं:
तिना नामोर नानो रे नानो रे ये ये ये-
गायतन लोनु वेहट रा लयोरी-
पुनवाय माने बुम तोर रा लयोरी-
ढोलता नुकंग बाते रा लयोरी-
बस्तर बुम ता आन्दोम रा लयोरी –
पुनवान्क पुछे मायतोरोम लयोरी-
वेहोम आयो वेह्तोम रा लयोरी...

Posted on: Sep 05, 2018. Tags: CG GANESH AYAM GONDI KANKER KOELIBEDA SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »