देवी गीत : माँ स्वती लोति माईया, माँ स्वती लोति...

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चदौरा, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जयंती आयाम और उनके साथ है नेहा भजन गीत सुना रही हैं:
माँ स्वती लोति माईया, माँ स्वती लोति-
माटी के दिया में बरात थे ज्योति-
चुनरी लहरा बों दाई ये-
स्वरा सर देवी धाम में-
माटी के दिया में बरात थे ज्योति-
स्वरा सर देवी धाम में...

Posted on: Nov 17, 2019. Tags: JAYANTI AYAM SONG SURAJPUR CG

छत्तीसगढ़ी गीत: राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी...

ग्राम-बोंगा, ब्लॉक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से लाल साय श्याम राजा रजवाड़ो के राज में जो कठिनाई होती थी उसको लेकर गीत सुना रहे है:
राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी-
बड़े-बड़े बाबु भैया, भांजत है कुदारी-
हां हां, भांजत है कुदारी-
राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी-
बड़े-बड़े बाबु भैया, भांजत है कुदारी-
राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी...

Posted on: Nov 16, 2019. Tags: RUPLAL MARAVI SURAJPUR CG

आरती : तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी...

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चन्दौरा , तह्सील-प्रतापपुर, विकासखण्ड- प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जयंती आयम एक आरती गीत सुना रहीं हैं:
ओम जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी-
तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी-
ओम जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी-
तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी...

Posted on: Nov 16, 2019. Tags: JAYANTI AAYAM SURAJPUR CG

शिव भजन : आगें है सावन के महिना संगी सारासोरों चल ना...

ग्राम पंचायत-जजावल, जिला-सुरजपुर (छत्तीसगढ़) विजयप्रताप पोया एक गीत सुना रहें है:
आगें है सावन के महिना संगी सारासोरों चल ना-
सारासोरो ले जल उठा के शिवपुर मंदिर में जाबों-
सिंघरी पारा पोड़ी सरहरी प्रतापपुर में जाबों-
बोलबम के नारा लगाके शिवपुर धाम मा जाबों-
भोला बाबा के महिमा भारी मेहा आयें हो तोर दुवारी-
आगें है सावन के महिना संगी सारासोरों चल ना...

Posted on: Nov 15, 2019. Tags: SONG SURAJPUR CG VIJAYPRTAP POYA

छत्तीसगढ़ी गीत : शरीहर माटी है जी, जीवन में हस गोठियाला, मजा उड़ाला...

ग्राम-देवरी, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश पोया एक छत्तीसगढ़ी में गीत सुना रहे है-
शरीहर माटी है जी, जीवन में हस गोठियाला, मजा उड़ाला-
हवा में बोला बतियावा, पिंजरा जैसे शरीर में, जिवहर बसे-
वो पिंजरा जैसे, चोला हर बसे हवे, एक दिन उड़ी जाहिस-
शरीहर माटी है जी, शरीर हमर माटी है रे-
दुनिया कर संग साथ, रिश्ताला बनायला-
एक दिन कहीं दुर्घटना में, चोला हर उड़ी जाहि रे-
शरीहर माटी है जी, जीवन में हस गोठियाला, मजा उड़ाला...

Posted on: Nov 14, 2019. Tags: KAILASHA SINGH POYA SONG SURAJPUR CG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download