सर्दी आई, सर्दी आई दांत बज रहे है कट-कट-कट...सर्दी पर बाल कविता

मालीघाट, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से शालू कुमारी एक कविता सुना रही हैं:
सर्दी आई, सर्दी आई दांत बज रहे है कट-कट-कट-
और सब काम कर रहे है झटपट-झटपट-
कल्लू काका ने अपनी माचिस सिलगाई-
सर्दी आई, सर्दी आई...

Posted on: Feb 07, 2017. Tags: SHALU KUMARI

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download