मोरे गाँव के शीतला तोला बन्दों हो हो...भक्ति गीत

प्रकाश मौसम ,ग्राम-दुर्गकोंडल, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर, छत्तीसगढ़ से एक छत्तीसगढ़ी भक्ति गीत सुना रहे हैं, जो नवरात्र के समय गाया जाता है:
मोरे गाँव के शीतला दाई तोला बन्दों हो हो – यहो जनम देवईया करम लिखीया तोही-
दाई-दादा तोही समझो हो-
तोर कोरा मा खेल्यों कूदेयों-
तोर कोरा मा बढेयों-
मोरे गाँव के शीतला तोला बन्दों हो हो...

Posted on: Jul 24, 2016. Tags: Prakash Mausam

हाय डारा लोर गे हे रे... छत्तीसगढ़ी गीत

प्रकाश मौसम ,ग्राम-दुर्गकोंदल, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर, छत्तीसगढ़ से एक छत्तीसगढ़ी गीत सुन रहे हैं:
हाय डारा लोर गे हे रे-
बईठीन हैं चिरईया-
नई तो दीखे रूखवा राई-
नई तो दीखे गांव-
नई तो दीखे संग सहेली-
का कर कंघे जांव-
हाय डारा लोर गे हे रे...

Posted on: Jul 22, 2016. Tags: Prakash Mausam

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download