कहाँ ले आये व्यापारी सरगुजा जिला बड़ा भारी...गीत-

ग्राम-देवरी, थाना-चंदोरा, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया एक कर्मा गीत सुना रहे हैं :
हाय रे हाय हा सरगुजा जिला बड़ा भारी-
कहाँ ले आये व्यापारी सरगुजा जिला बड़ा भारी-
कहाँ ले आबे सर सरकारी सरगुजा जिला बड़ा भारी-
दिल्ली ले आवे रे सर सरकारी रे सरगुजा जिला बड़ा भारी-
पलामू, गढ़वा, नेपाल ले आवे व्यापारी सरगुजा जिला बड़ा भारी-
नेपाल बिहार ले आवे व्यापारी सरगुजा जिला बड़ा भारी...

Posted on: Jun 02, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA PRATAPPUR SONG SURAJPUR

गर्मी के दिनों में प्यासे को पानी पिलाना चाहिये...बुजुर्गों का कहना

ग्राम-नीलकंठपुर, पंचायत-गोरगी, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जगदेव प्रसाद पोया बता रहे हैं, कि गर्मी के दिनों में हर गली, चौक में सभी जगह लाल घडा में पानी पिलाने वाले रहते हैं| जो अति पुन्य का काम होता है| ये सभी गांव, शहर में पिलाया जाता है| जब कोई राहगीर प्यास से विलखते हुए पानी पाता है, तो उसके मन को शांति मिलती है| प्यासे को पानी पिलाने वाले को आशीर्वाद मिलता हैं| बुजुर्गों का कहना है, ये काम कई तीर्थ यात्रा करने से जो पुन्य या फल की प्राप्ति होती है| उससे बढ़कर है | इसलिये गर्मी के दिनों में प्यासे को पानी पिलाना चाहिये|

Posted on: Jun 01, 2019. Tags: CG JAGDEV PRASAD POYA LEARNING PRATAPPUR SURAJPUR

कलशा पानी गर्म है चीटिया नहावे झोल...कविता-

ग्राम-देवरी, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर से सुधीर साय एक कविता सुना रहे हैं :
कलशा पानी गर्म है चीटिया नहावे झोल-
अंडा लेके चीटिया चढ़े तो जानो बरखा हो भरपूर-
खेती करे सांझ के घरे सोये, पाके खेती चोर काट के ले-
पाका भैंसा, गागर, बैल, नारी कुलक्ष्नी, बालक छय-
उनसे बाचो सब तुम लोग राज छोडके साधे जोग...

Posted on: Jun 01, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA POEM PRATAPPUR SURAJPUR

हाय रे हाय माया झिन भुला गा...गीत-

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चंदोरा, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया एक पडरिया गीत सुना रहे हैं:
हाय हाय माया झिन भुला गा-
दुनिया मा करला व्यौहार, माया झिन भुला गा-
कर लो जाय गोठ बात, अउ करा व्यौहार-
माया में दुनिया हर जुट हे परेनी-
हाय दलदल के पैदा में, देखाथन संसार-
दाऊ-दाई के अमृत बचन पालिन माया झिन भुला गा...

Posted on: May 31, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA PRATAPPUR SONG SURAJPUR

बाप के मया महतारी के दुलार, तब आज हमरे दुनिया देखेन संसार...कविता-

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चंदोरा, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलास सिंह पोया एक कविता सुना रहे हैं :
बाप के मया महतारी के दुलार-
तब आज हमरे दुनिया देखेन संसार-
दोना में बासी खवाईस, कटोरा में पानी पियाईस-
तब हमके सुग्घर पैदा करिस और गोदी में खिलाईस-
अंगुली पकड़ के रेंगना सिखाईस और पेशाब मैदान ला साफ करिस-
तब हमके दाऊ दाई मन आज दुनिया ला देखाईस...

Posted on: May 31, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA POEM PRATAPPUR SURAJPUR

« View Newer Reports

View Older Reports »