मैं तो गायेउं करमा, गोर गए करमा, इन्दर मोहे रे...आदिवासी करमा गीत

ग्राम- मोहगांव, पंचायत-सारडोली, विकासखंड-मवईं, जिला- मंडला, मध्यप्रदेश से लालसिंह धुर्वे से क्षेत्रीय कर्मा गीत गा रहे हैं. आदिवासी समाज में यह गीत विभिन्न उत्सवों के समय गाया जाता है:
मैं तो गायेउं करमा – मैं तो गायेउं करमा-
गोर गए कर्मा, इन्दर मोहे रे-
मैं तो गायेउं कर्मा-
दाई गावइ कर्मा-दाई गावइ करमा-
दाई गावइ कर्मा, करमा गावैं रे...
मथवा टूरा पैय सुलझा बे कासान-
मोर ला बताई दे, धीरे गावैं कर्मा-
बेटा धीरे गावैं कर्मा-
तोर गाए करमा इन्दर मोहें रे-
बाबू कहइ सीताराम-
दाई कहे राम-राम-
तोर गाए बेटा मोला इन्दर मोहें रे-
रा-साशन मंगाइके-
जैसे शैला, तै तो नाचे फैला-
मांदर के बजइया बाबू कहाँ आवौं धूर कोटा मा-
मैं कहाँ गाऊं करमा-
दिल्ली-भोपाल मा-
दादर मा बसै नवा गांव-
गांवां रे टूरा कैसे मोबाइल दिखाय गए मौला रे...

Posted on: Mar 01, 2015. Tags: Lalsingh Dhurvey

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download