5.6.31 Welcome to CGNet Swara

पर्रो पाते बडंग रो याया बडंग रो याया...गोंडी कर्रे विवाह गीत

ग्राम-घोडागाँव, तहसील-पखांजूर, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से सपना वट्टी के साथ में राधे और सेंगोबाई एक गोंडी कर्रे विवाह गीत सुना रहे है:
री लोयो री लोयो री लोयो री लोयो-
पर्रो पाते बडंग रो याया बडंग रो याया-
पर्रो पाते बडंग रो याया बडंग रो याया...

Posted on: Oct 20, 2018. Tags: CG GONDI KANKER PAKHANJUR SAPNA WATTI SONG

बाती मारले पाड़ो डुक्तो, नी बाती मारले पाड़ो डुक्तो...गोंडी गीत-

ग्राम पंचायत-दरभा, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) से सन्नी उसेंडी एक गोंडी गीत सुना रही हैं, जिसे गोटुल में गाते हैं :
रे रे रोयो रेला रे रेला, रे रे रोयो रेला रे रेला-
बाती मारले पाड़ो डुक्तो, नी बाती मारले पाड़ो डुक्तो-
हिरपी माडले पाड़ो डुक्तो, नी हिरपी मारा ले पाड़ो डुक्तो-
हिरपम ले या पांडा डिंदा, नी हिरपम ले या पांडा डिंदा-
हे पांडो रुक्तो, नी रेका मारा ले पांडो रुक्तो-
नी रेकम लेया, पांडो डिंदो...

Posted on: Oct 19, 2018. Tags: BASTAR CG DARABHA GONDI GOTUL SANNI USENDI SONG

ऐ तीना ना मोर नानो रे, ना ना नाने ना मोर नान हो...गोंडी गीत-

ग्राम-तोडहुर, तहसील-पखांजूर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से विष्णुराम दुग्गा और सुरेश कुमार कतलामी एक गोंडी गीत सुना रहे हैं, जिसमे वे अपने जगह और संस्कृति के बारे में बता रहे हैं :
ऐ तीना ना मोर नानो रे, ना ना नाने ना मोर नान हो-
ऐ या गाडा तेदा ना बगर मावा डेरा हो-
ऐ या गाडा आमा रूप में, बस्तर मावा डेरा ओ-
ऐ बस्तर के लिंगो पेड़, तांग जोहर लागे हो-
ऐ या गाडा तेदा ना बगर मावा डेरा हो...

Posted on: Oct 18, 2018. Tags: BASTAR CG GONDI KANKER SONG VISHNU DUGGA

एकिरा लेनु दे, रेती रे नूना जोजो रेनू ना...गोंडी छट्टी गीत-

ग्राम-तोडहुर, पंचायत-हनुमानपुर, तहसील-पखांजुर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से सुको बाई एक गोंडी भाषा में एक छट्टी गीत सुना रही है :
एकिरा लेनु दे, रेती रे नूना-
एकिरा लेनु दे, रेती रे नूना जोजो रेनू ना-
हे जोजो रंजो ना, जो जो रंजो ना-
हे याया नकुरा से रेती रेंदू ना-
हे याया नकुरा ते रेती रेंदू ना-
जोजो रंजो ना हे जो जो...

Posted on: Oct 16, 2018. Tags: CG GONDI SONG KANKER NILAWATI WADDE PAKHANJUR

चलिया रीलो चली येलो री रीलो...गोंडी गीत-

ग्राम-जामकूटनी, पंचायत-बेलगाल, तहसील-पखांजूर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से सुसमा पद्दा, सुनीता उसेंडी, मानकुमारी गावड़े और समाय बाई दुग्गा एक गोंडी में एक गीत सुना रहे है :
चलिया रीलो चली येलो री रीलो-
ये आकी येलो ले-
आकिंग निलगिर येलो ले-
बाराये इंजोर बाराये इंजोर ओयकाडे...

Posted on: Oct 13, 2018. Tags: CG GONDI KANKER PAKHANJUR SHIVELAL USENDI SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »