किसान स्वर : संध की फल पत्ती सभी का उपयोग कर सकते हैं-

ग्राम पंचायत-कुबेरपुर, ब्लाक-ओडगी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से दिलवरन सिंह सीजीनेट जन पत्रकारिता जागरूकता यात्रा के रूपलाल मरावी को संध के बारे में बता रहे हैं, वे संध के पत्ते से रस्सी बनाते हैं, खेती भी करते हैं, संध की खेती आषाढ़ के महीने में की जाती है, उसका फल भी होता है जो बाजार में 40 रूपए किलो के हिसाब से बिकता है, उसके पत्ते का उपयोग रासायनिक खाद के रूप में भी किया जाता है, गांव के अधिकतर लोग संध की खेती करते हैं, उस पत्ते का खाद गोबर खाद से भी ज्यादा उपयोगी होता है, इस प्रकार ये लोगो के आय का भी एक साधन है रूपलाल मरावी@7697080920.

Posted on: Jul 20, 2018. Tags: DILWARAN SINGH