5.6.31 Welcome to CGNet Swara

काबे मजुरावे वाता रे, कोन मजुलिहा ले बसेंड मजुरावे वाता ओ...सरगुजिया गीत-

परसापारा, ग्राम-ओदारी, पोस्ट-काला बरती, तहसील-वाड्रफनगर, थाना-चलगली, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से चंदरसाय सरगुजिया भाषा में एक गीत सुना रहे हैं :
काबे मजुरावे वाता रे, कोन मजुलिहा ले बसेंड-
मजुरावे वाता ओ-
यें माजुरावें वांता रे, कोन मजुलिहा ले बसेंड-
जब तोरे हे कोन मजुलिया ले बसें,
मजुरावें वत्ता रे सलिया में लिहा ले बसेंड...

Posted on: Sep 14, 2018. Tags: BALRAMPUR CG CHANDARSAI SONG SURGUJIHA WADRAFNAGAR

स्वच्छ भारत स्वच्छ इंडिया हमन ला बनाना हैं...स्वच्छता गीत

ग्राम-मिधारी, तहसील-वाड्रफनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से सन्नू कुमार नेटी स्वच्छता के उपर एक गीत सुना रहे हैं:
स्वच्छ भारत, स्वच्छ इंडिया हमन ला बनना हैं-
राज्य-छत्तीसगढ़ भईया हमन ला सजाना हैं-
सबसे सुंदर यह सबसे बढ़िया राज्य छत्तीसगढ़िया-
मिल जुल के भईया करना है काम-
गाँव गली के भईया साफ-सफाई रखना-
गाँव गली ये साफ-सफाई रखे हमर पारा-
रास्ता मा गंदा ना करे ऐहो साफ करव...

Posted on: Sep 10, 2018. Tags: BALRAMPUR CG SANNUKUMAR NETI SONG SWACHCHH BHARAT WADAFNAGAR

तारो से तार जुड़ल अपनों से बात गुरु अईबे की नहीं...शिव भजन गीत

ग्राम-मरमा, पोस्ट-कृष्णा नगर धमनी, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से मीना यादव एक शिव चर्चा भजन सुना रही हैं:
तारो से तार जुड़ल अपनों से बात गुरु अईबे की नहीं-
हमरो संकटीया में कोई ना सहारा गुरु आईबे की नहीं-
हमरो ऊपर दया करिहा हम शिव के ऊपर माया-
हमरो पापा पर दया करिहा मामी पर माया-
हमर भईया पर करिहा काकी पर माया-
हमरो संकटीया में कोई ना सहारा गुरु अईबे की नहीं...

Posted on: Sep 07, 2018. Tags: BALRAMPUR BHAJAN CG MEENA YADAV SONG

हम उस देश के वासी है जिस देश में गंगा मैली है...कविता

ग्राम-मोरकोल, पोस्ट-वीरेन्द्र नगर, तहसील-रामानुजनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से चन्द्रकला पोर्ते एक कविता सुना रही है:
हम उस देश के वासी है जिस देश में गंगा मैली है-
बंद है जिसमे स्मृति राजनीति वो बंधी थैली है-
जहाँ साँस-साँस में टूटन है, जहाँ आसपास में खूब घुटन है-
फिर भी कोई किस्सा दुहराओ, जब किया जब पहेली है-
लाचारो की जमात यहाँ, आजादी की कैसे करामात यहाँ-
सिर पे छत ना पेट में अन्न, पर उनकी भरी हवेली है-
हम उस देश के वासी है जिस देश में गंगा मैली है...

Posted on: Sep 07, 2018. Tags: BALRAMPUR CG CHANDRAKALA PORTE POEM RAMANUJNAGAR

पर्यावरण और वृक्ष हमारे वातावरण के मूल तंत्र है, उनकी देखभाल हम सब को मिलकर करना चाहिए...

दयाराम देवांगन, ग्राम पंचायत-कपिलदेवपुरी, तहसील और जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से बता रहे है कि पर्यावरण और वृक्ष हमारे वातावरण के मूल तंत्र है, उसके बिना हम नहीं रह सकते | जैसे साइकिल एक चक्के से नहीं चलती वैसे ही हमारा पर्यावरण भी एक दूसरे से संबंध बनाये हुए है| पहले की तुलना में पेड़ पौधे बहुत कम है जंगल धीरे-धीरे हम काटते जा रहे है इसको नहीं रोका गया तो आने वाले समय में बहुत दिक्कत हो सकता है इसलिए हर व्यक्ति एक पेड़ जरुर लगाये उसकी देखभाल करे गाँव के सरपंच की तरह नहीं की बारिश के मौसम में पेड़ लगवाए और गर्मीं तक वो सूख जाये| खासकर पेड़ों में कोई भेद न करें की कोई पेड़ फलदार नहीं है तो नहीं लगायेगें ऐसा नहीं सोचना है | सभी पेड़ पर्यावरण के लिए उपयोगी है |

Posted on: Sep 05, 2018. Tags: BALRAMPUR CG DAYARAM DEWANGAN ENVIRONMENT

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »