छूट गया घर सोने का...कविता-

ग्राम-खुटैनी, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से प्रियंका मार्को एक गीत सुना रही हैं:
छूट गया घर सोने का-
सुना पहले थी ये विराना-
किसी रंग बिरंगे और उमंग भरे मै-
मेले के लौटने पर एक आदमी देखा-
थका हारा और बिलकुल अकेला...

Posted on: Jun 25, 2020. Tags: BALRAMPUR CG POEM PRIYANKA MARKO