बच्चो के लिये जनरल नॉलेज...

डोंगरपुर, राजस्थान से प्रकाश मीणा जो दृष्टिबाधित हैं, बच्चो के लिये जनरल नॉलेज बता रहे हैं, जिससे वे बच्चे जो गाँव में रहते हैं, इंटरनेट की सुवधा से दूर हैं, जिनके पास केवल एक छोटा फोन है जिससे केवल बात कर सकते हैं, दूसरे वे बच्चे जो देख नहीं सकते केवल सुन सकते हैं, इसे सुन सके और सीख सकें| एसी जानकारी रिकॉर्ड करने के लिये 08050068000 पर मिस्ड कॉल कर रिकॉर्ड कर सकते हैं| (AR)

Posted on: Sep 27, 2020. Tags: EDUCATION

Bastar Bultoo (Bluetooth) Radio in Hindi: 27th Septamber 2020...

श्रोताओं आज हम लेकर आयें हैं बुल्टू रेडियो जिसे प्रस्तुत कर रहे हैं बाबूलाल नेटी और सैते दुग्गा हिंदी भाषा में इस रेडियो कार्यकम में जिला बस्तर के आदिवासी संस्कृति व गीत संगीत, युवओं की विचारों को और प्राकृतिक से जुड़े बाते चर्चा किया गया है एवं परंपरा के बारे में जानकारी दिया जा रहा है | जिसमे गीत गा रहें हैं , बस्तर में हिंसा से आजादी के बारे में बता रहे हैं. इस बुल्टू रेडियो प्रोग्राम को सीजीनेट के नंबर 08050068000 पर मिस्ड काल करके सुन सकते हैं और www.cgnetswara.org वेवसाईट पर जाकर देख व सुन सकतें हैं | वेबसाइट से डाउनलोड करने या व्हाट्सएप पर प्राप्त करने के बाद लोग ऐसे इलाकों में जहां फोन का सिग्नल नहीं है वहां ब्लूटूथ के माध्यम से एक दूसरे को बांटते हैं | लोग ब्लूटूथ का उच्चारण नहीं कर पाते तो इसे बुल्टू रेडियो भी कहते हैं

Posted on: Sep 27, 2020. Tags: BULTOO RADIO BASTAR

अगर तुम न होते, अगर तुम न होते...गीत-

ग्राम-बरेतीकला, ब्लाक-जवा, जिला रीवा (मध्यप्रदेश) से दयासागर कुसवाहा एक गीत सुना रहे हैं:
हमें और जीने की चाहत न होती-
अगर तुम न होते, अगर तुम न होते-
तुम्हें देखके तो लगता है ऐसे-
बहारों का मौसम आया हो जैसे-
दिखाई न देती अंधेरों में ज्योती-
अगर तुम न होते... (AR)

Posted on: Sep 26, 2020. Tags: HINDI SONG

नैनों में बदरा छाये...गीत-

ग्राम-बरेतीकला, ब्लाक-जवा, जिला रीवा (मध्यप्रदेश) से दयासागर कुसवाहा एक गीत सुना रहे हैं:
नैनों में बदरा छाये-
बिजली सी चमके हाय – ऐसे में बालम मोहे, गरवा लगा ले-
नैनों में बदरा छाये बिजली सी चमके हाय-
ऐसे में बालम मोहे... (AR)

Posted on: Sep 26, 2020. Tags: HINDI SONG

स्वास्थ्य स्वर : दूब के औषधीय उपयोग...

ग्राम-रनई, थाना-पटना, जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से वैद्य केदारनाथ पटेल दूब का औषधीय उपयोग बता रहे हैं, दूब को पीस कर छानकर मिश्री मिलाकर सेवन करने से मूत्र विकार में लाभ हो सकता है| दूब के रस में अचीस का चूर्ण मिलाकर सेवन करने से दर्द के कारण आने वाले बुखार से आराम मिल सकता है| संबंधित विषय पर जानकारी के लिये दिये नंबर पर संपर्क कर सकते हैं: संपर्क नंबर@9826040015. (AR)

Posted on: Sep 26, 2020. Tags: TOILET PROBLEM

View Older Reports »