5.6.31 Welcome to CGNet Swara

एक सोना ला मति देबे, चांदी ला मति देबे प्रेम चिठ्ठी दे राख बे...प्रेम गीत-

ग्राम पंचायत-बमल्यात, पोस्ट-देवगढ़, थाना-सीतापुर, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से विष्णु टोप्पो एक गीत सुना रहे हैं, जिसका अर्थ है सोना चांदी ना देकर प्रेम का संदेश सभी दीजिये :
एक सोना ला मति देबे, चांदी ला मति देबे-
प्रेम चिठ्ठी दे राख बे-
आयो निखे बाबा निखे,
ये दुनिया में कोनो कोनो नई खे-
भला सोना ला मति देबे, चांदी ला मति देबे-
प्रेम चिठ्ठी दे राख बे...

Posted on: Sep 22, 2018. Tags: CG SONG SURGUJA SURGUJIHA VISHNU TOPPO

कोन बने साजा बीजा, कोन बने धवारले...डोमकच गीत

ग्राम-कोटया, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक डोमकच गीत सुना रहे हैं :
कोन बने साजा बीजा, कोन बने धवारले-
कोन बने धवारगे, कोन बने सरई फूला शिकारी धरालक-
कोन बने सरई फूला, शिकारी धरालय मैना शिकारी धरालय-
साजा बने साजा बीजा, दिक बने धवारगे-
माझे बने सरई फूला, शिकारी डरालक...

Posted on: Sep 17, 2018. Tags: CG DOMKACH MEWALAL DEWANGAN SONG SURGUJA SURGUJIHA

माट्टी के मांदर सुघर बाजे पत्रंगी टुरी झूमर-झूमर नाचथे...सरगुजिया कर्मा गीत

ग्राम-कोट्या, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक सरगुजिया कर्मा गीत सुना रहे है:
माट्टी के मांदर सुघर बाजे पत्रंगी टुरी झूमर-झूमर नाचथे-
माट्टी के मांदर सुघर बाजे पत्रंगी टुरी झूमर-झूमर नाचथे-
हमर गांव हर हवे गा हवे चार कुरिया-
ये गांव लव चली जाबो चली जाबो दुरिहा-
माट्टी के मांदर सुघर बाजे पत्रंगी टुरी झूमर-झूमर नाचथे...

Posted on: Sep 16, 2018. Tags: CG KARMA MEWALAL DEWANAGN SARGUJIHA SONG SURGUJA

जल बिना डोंगिया, डोंगिया बिना नारी...गीत

ग्राम-कोटया, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक गीत सुना रहे हैं :
जल बिना डोंगिया, डोंगिया बिना नारी-
नारी बिना पुरुष, पुरुष बड़ा भारी-
गध-गध गीरे लोचन बहे नीरा-
प्रभु गुण गावथे फुल के शरीर-
राम जी ला पूछे रामन कर भोरे-
काहे कारन हवे धनुष काहे तोड़े-
उंचे पर्वत ले देखे रघुराई, बाली सुग्रीव दोनों मचे हे लड़ाई...

Posted on: Sep 14, 2018. Tags: CG MEWALAL DEWANGAN SONG SURGUJA SURGUJIHA

कौन पारा बुले जाय कौन पारा दिन ला गंवाए...सरगुजिया गीत

ग्राम-कोट्या, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक सरगुजिया गीत सुना रहे हैं :
बिना झोले नई जाओं, बिना झोले नई जाओं रे-
तोर ले तोर दीदी रिझवारे-
कोन पारा बुले जाय कोन पारा दिन ला गंवाए-
कोन पारा अरीछा-मरीछा कोन पारा खाए बीरा पान ला...

Posted on: Sep 03, 2018. Tags: CG MEWALAL DEVANGAN SONG SURGUJA SURGUJIHA

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »