Forest dept digging lake without Gram Sabha consent and don't respond top our appeals...

Santosh Painkra is calling from Paturiyada village of Podiproda block, Korba district in Chhattisgarh and says Forest dept is digging a lake without their consent. Land belonged to Bhavan Singh Painkra was abducted, trees are cut down causing damage and work is in progress. Ranger and Deputy Ranger called for Gram sabha which eventually no official turned up and now they say don’t stop the work. We didn’t pass no objection and demand the work stop. Listeners are requested to call Deputy Ranger@8461854089, Ried Guard@7354607755. Santosh@8435276252.

Posted on: Feb 07, 2019. Tags: CG KORBA SANTOSH PAIKARA

स्वास्थ्य स्वर: मलेरिया से बचने के उपाय

डा अनिल रिजवी, कोरबा (छत्तीसगढ़) से मलेरिया से बचाव का घरेलू उपाय बता रहे है: नीम की पत्ती, डनठल और छाल या नीम का कोई भी अंग हो उसको सुखा कर चूर्ण बना ले उसमे से 100 ग्राम चूर्ण ले लोबान 100 ग्राम निचोड़ कर मिला ले और 25 ग्राम हल्दी का पाउडर मिला ले ये तीनो को मिलाकर रख ले शाम को जब सूरज डूबने को हो तब लकड़ी या कोयला में आग जलाकर अंगार बना ले और चूर्ण को अंगार में डालकर घर के कोने-कोने में धुआं दे जिसे मच्छर बाहर निकल जाता है जिससे वातावरण शुद्ध होता है और मच्छर मर जाते है | ग्रामीण लोग चौक चौराहों में भी धुंआ कर सकते है जिससे मच्छर मर जायेगें और पूरे ग्रामीण लोग मलेरिया, डेंगू जैसी बीमारियों से बच सकते हैं | सम्पर्क@9826921687

Posted on: Aug 26, 2018. Tags: ANIL RIZIVI CG DR HEALTH HINDI KORBA

वनांचल स्वर : कुष्ठ बीमारी का घरेलू उपचार-

जिला-कोरबा (छत्तीसगढ़) से डॉ.आमीन रिजवी गलित कुष्ट का घरेलू उपचार बता रहे है, गलित कुष्ट इसे कोढ़ रोग के नाम से भी जाना जाता है, जिसमे शरीर की उंगलिया नाक का सिरा, शरीर का अग्र भाग गलने लगता है, यह इस बीमारी का आख़िरी स्तर है, ऐसे रोगियों को समाज से बहिष्कृत कर दिया जाता है, सरकार द्वारा उनके रहने के लिए अलग से कालोनियां भी बनाई है, ऐसी समस्या से पीड़ित लोगो के लिए आंक का पौधा जिसे मदार, अकवन, अकड़ा के नाम से भी जाना जाता है, ये दो जाति का होता है एक सामन्य होता है जो कही भी मिल सकता है, दूसरा सफेद होता है जो सभी जगह नही मिल पाता, इसमें से जो भी उपलब्ध हो उसे उखाड़कर जड़ को काटकर सुखा लेना है, सूखने के बाद जड़ के छाल को अलग कर, पाउडर बनाकर छोटी-छोटी पुडिया बनाकर रख लें, और एक चम्मच देशी घी के सांथ सुबह-शाम खाने के बाद रोगी को चटाना है, इससे कुष्ट के कीड़े मल के सांथ बाहर निकल जाएंगे, इससे लाभ हो सकता है : आमीन रिजवी@9131235332.

Posted on: Aug 19, 2018. Tags: AMIN RIZVI HINDI HEALTH KORBA CG VANANCHAL SWARA

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download