छत्तीसगढ़ी गीत : कोने चावल टिके रे निक लागे...

ग्रामपंचायत-केकराखोली, जिला-धमतरी (छत्तीसगढ़) से अजय कचलाम और उनके साथ ग्रामीण महिला बिसान्तिन बाई, फुलेश्वरी पोटाई, राम बाई सलाम फूलमत मरकाम छत्तीसगढ़ी गीत सुना रही है:
कोने चावल टिके रे निक लागे-
निक लागे निक लागे दौना पाने रे निक लागे-
दाई चावल टिके रे निक लागे-
निक लागे निक लागे दौना पाने रे निक लागे-
भैया चावल टिके निक लागे-
निक लागे निक लागे दौना पाने रे निक लागे...

Posted on: Nov 05, 2019. Tags: AJAY KACHLAM DHAMTARI CG SONG