सुख के सब साथी, दुःख में न कोय...भक्ति गीत-

ग्राम-आमनदुला, जिला-जांजगीर चाम्पा (छत्तीसगढ़) से चंद्रकांत लहरे हिंदी भक्ति गीत सुना रहे हैं:
सुख के सब साथी, दुःख में न कोय-
मेरे राम, मेरे राम, तेरो नाम एक सांचा-
दूजा न कोय, सुख के सब साथी-
जीवन आंनी जानी काया-
झूठी माया झूठी काया-
फिर काहे को सारी उमरिया-
पाप की गठरी ढोए-
सुख के सब साथी, दुःख में न कोय...

Posted on: Oct 23, 2020. Tags: BHAKTI SONG