कजली खेलेले जनक दुलारी,नईहर दुलम होइहैं न...बघेलखंडी कजली गीत

बहिनी दरबार जिला रीवा,मध्यप्रदेश से उषा जी एक कजली गीत गा रही है, गीत में एक सखी दूसरी सखी से कह रही है कि यही पर कजली खेल ले नहीं तो ससुराल में खेलना मुश्किल हो जाएगा :
कजली खेलेले जनक दुलारी,नईहर दुलम होइहैं न
दुइ सखिया मिल जेमना बनायो,जेमले सखिया जेमना
नईहर दुलम होइहैं न...
दुइ रे सखिया जल भर लायौ,घुटले सखिया
नईहर दुलम होइहैं न...
दुइ रे सखिया मिल फूला बिन लायो,सुतले फुलवा मोरे सखिया
नईहर दुलम होइहैं न...
कजली खेलेले जनक दुलारी,नईहर दुलम होइहैं न

Posted on: Aug 13, 2014. Tags: Usha Yadav

छोटी -मोटी कारी बदरिया, बरसइ बड़ी बूंदन हो...बघेलखंडी सोहर गीत

उषा, बहिनी दरबार, डभौरा, जिला रीवा मध्य प्रदेश से बता रही हैं कि उनकी बहन मंजू को लड़का पैदा हुआ है . उसी ख़ुशी में सोहर गा रही हैं . सोहर उत्तर भारत में बच्चा पैदा होने पर ही गाया जाता है:
छोटी -मोटी कारी बदरिया
बरसइ बड़ी बूंदन, बरसइ बड़ी बूंदन हो
हो रामा सइयां पड़े हैं महलिया
भीतर चले आवईं, भीतर चले आवईं हो
छोटी -मोटी कारी बदरिया...
मां एक पाँव धरिहीं अंगनवां
दूसर पाँव डहरिया, दूसर पाँव डहरिया हो
तीसरे में जुड़ा है, अपने पलंगिया
पलंगिया मोरे डोलईं हो
छोटी -मोटी कारी बदरिया...

Posted on: Aug 03, 2014. Tags: Usha Yadav

पुरुवा-पछिउना से उठी रे बदरिया, बरसै लागै ना...बघेलखंडी कजली गीत

ग्राम-डभौरा, जिला-रींवा, (म.प्र.) से बहिनी दरबार से ऊषा बघेली भाषा में एक कजली गीत गा रही हैं. ये गीत सावन के माह में गाया जाता है:
पुरुवा-पछिउना से उठी रे बदरिया, बरसै लागै ना
ऊहै नान्ही-नान्ही बुंदिया, बरसै लागै ना
पुरुब-पछिउना...
अपने महलिया से ससुरू निहारैं, भीजति आवै ना
मोरी पतली पतोहिया, भीजति आवै ना
अपने महलिया से जेठ जी निहारैं, भीजति आवै ना
मोरी पतली भयहुआ, भीजति आवै ना
अपने महलिया से देवरा निहारैं, भीजति आवै ना
मोरी पतली भउजइया, भीजति आवै ना
पुरुवा-पछिउना से उठी रे बदरिया............
अपने महलिया से पिया जी निहारैं, आवत होइहीं ना
मोरी पतली निधनियां, भीजति होइहीं ना
पुरुब-पछिउना से उठी रे बदरिया, बरसै लागै ना
ऊहै नान्ही-नान्ही बुंदिया, बरसै लागै ना

Posted on: Jul 21, 2014. Tags: Usha Yadav

ई बालू भीठा चढब राजा कइसे...बघेलखंडी सोहर गीत

साथी उषा ग्राम चौकिया,जिला रीवा,(मध्यप्रदेश) से एक सोहर गीत रिकॉर्ड कर रही हैं यह गीत तब गाया जाता है जब बच्चा जन्म लेता है-
ई बालू भीठा चढब राजा कइसे
ससुरे म देख्यो ससुईया बड़ी जोधा
बिच्छू जइसे डंक मारे रहब राजा कइसे।
ई बालू भीठा चढब राजा कइसे।
ससुरे म देख्यो जेठनिया बड़ी जोधा
सर्प जइसे फुसकै रहब राजा कइसे।
ई बालू भीठा चढब राजा कइसे।

Posted on: Jul 10, 2014. Tags: Usha Yadav

Handpump broken from 6 months, fetching water from 2 kms, Please help...

Usha from Bahini Darbar is visiting Basor basti in Ambedkar Nagar in Dabhaura in Rewa where she meets residents who tell her that their hand pump is broken from 6 months. They have complained to many officials many times. Mechanics have also visited but it has not helped. The entire area is suffering. They need to bring water from 2 kms away. You are requested to call Collector at 9425147740 and SDO at 7415310693. UshaJi7898414563

Posted on: Jun 19, 2014. Tags: HANDPUMP USHA YADAV WATER

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download