कोयल की बोली बोलत बाटे कौवा, जरूर कोई बात बा...भोजपुरी गीत

चकोरमजहर, जिला-मुज्जफरपुर (बिहार) से महेश ठाकुर एक भोजपुरी गीत सुना रहे हैं :
कोयल की बोली बोलत बाटे कौवा-
जरूर कोई बात बा-
विचार करी रऊवा जरूर कोई बात बा-
बकुला लगावे,लगावे बाटे चन्दन-
मूसवा के बिलडा करथो अभिनंदन-
बाघवा जब आवों ता बकरी के पाऊवां-
घूम-घूम के काटल जे लोगवा के गाला-
उपदेश देता रहता वही माला...

Posted on: Apr 09, 2017. Tags: MAHESH THAKUR

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में : नीम के औषधीय गुण की कहानी-

कान से मवाद आता हो तो नीम की पत्ती को पीसकर सरसों के तेल में उबालकर जलाकर तेल को छानकर दिन में दो तीन बार डालने से मवाद आना बन्द हो जायेगा. चर्म रोगों में नीम की छाल को उबालकर उसका काढ़ा बनाकर नहाने से बहुत लाभदायक होता है| नीम की कुपले (कलसी ) 10 दिनों तक प्रतिदिन खाया जाए तो पेट में कीड़े की शिकायत नहीं होगी। एक बार एक बीमार व्यक्ति उत्तर भारत से दक्षिण की तरफ जा रहा था, वहा उसे ईमली बराबर खाने को मिल जाते थे, उस व्यक्ति से वैद्य ने कहा था कि जहां भी नीम का वृक्ष मिले वहा पर बैठकर आराम करना कम से कम 12 घन्टे तक, फिर चलना उसने वैसे ही किया जब वह घर पंहुचा तो पूरी तरह से स्वस्थ हो चुका था तो यह है नीम के औषधीय गुण की कहानी। सुनील कुमार@9308571702.

Posted on: Mar 24, 2017. Tags: Brahmanand Thakur

मोर दिल म हे अरमान मोला प्रभु राम चाही ना...भक्ति गीत-

रमन सिंह ठाकुर ग्राम मड़मड़ा जिला कबीरधाम, छत्तीसगढ़ से एक गीत सुना रहे है:
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
मोर दिल म हे अरमान मोला प्रभु राम चाही ना-
मोर दिल म हे अरमान मोला प्रभु राम चाही ना-
चौदह बरस बनवासी होए गए कैकई ल तको ग दुःख होगे-
दसरथ बाबु सुरता मा गा आंसू के धार बोहावे ना-
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
अयोध्या चाही ना जी मोला मडमड़ा चाही ना-
मोर दिल मा हे भारत मा मोला हिंदुस्तान चाही ना...

Posted on: Feb 25, 2017. Tags: RAMAN SINGH THAKUR

विचार करी रउवा जरुर कोई बात बा...कविता

साहेबगंज मुझफ्फरपुर बिहार से प्रगतिशील सांस्कृतिक मंच के दूसरे सम्मेलन के अवसर पर कवि महेश ठाकुर कविता सुना रहे हैं:
विचार करी रउवा जरुर कोई बात बा-
कोयल की बोली बोलत बा कऊआ-
जरुर कोई बात बा-
विचार करी रउवा जरुर कोई बात बा-
दुश्मन रहन कहात है रे भईया-
नई आज जुबावन उहे बात है भईया-
मालिक झुआ के दौड़े माघ में खडाऊंआ-
जरुर कोई बात बा-
विचार करी रउवा जरुर कोई बात बा-
कोयल की बोली बोलत बा कऊआ-
जरुर कोई बात बा...

Posted on: Feb 06, 2017. Tags: MAHESH THAKUR

आदत बुरी सुधार लो हो गया भजन...भजन गीत

ग्राम-सुन्दरपुर, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) से रामेश्वर ठाकुर बता रहे है कि उनके यहाँ पर 1 फ़रवरी 2017 से भव्य महायज्ञ लग रहा है उसमे सभी श्रदालु भक्तो को आमंत्रित होने का निमंत्रण दे रहे है उसके ऊपर आधारित एक भजन गीत सुना रहे हैं :
आदत बुरी सुधार लो बस हो गया भजन-
मन के तरंग मार लो बस हो गया भजन-
दृष्टि में तेरे दोष है दुनिया निहारती-
रमता का आंगन आंग लो बस हो गया भजन-
आदत बुरी सुधार लो हो गया भजन...

Posted on: Jan 18, 2017. Tags: RAMESHWAR THAKUR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download