हमें अपनी ज़िन्दगी खुद बनाने दो...बाल श्रमिकों का गीत

हमें अपनी ज़िन्दगी खुद बनाने दो
हमारी ख्वाहिशों को कोई न छीन लो
आज अपना बचपन हम मांगते हैं
आज अपनी हिम्मत हम बांधते हैं
एक साथ कदम बढ़ाते जाएंगे
कहीं किसी के बल से टूट न पाएँगे
काम और वेतन बढ़ाके ही रहेँ
हम तो काम के बन्धन से मुक्त ही रहेँ
हमें अपनी ज़िन्दगी खुद बनाने दो
हमारी ख्वाहिशों को कोई न छीन लो
घर की रोशनी मे अब रहेंगे हम
चलो उठो अंधेरों से बचेंगे हम
स्वप्न ये हमारे हमे साथ दीजिए
पढ़ेंगे और लिखेंगे नई आरजू लिए

Posted on: May 02, 2014. Tags: Swati Raipur

मानवता की यही पुकार, बाल श्रम है अत्याचार...मई दिवस पर एक रपट

Swati in Raipur Chhattisgarh is talking to some child laborers who tell her that they like studying but the economic situation of their families force them to work. They tell her they want to celebrate May Day because it talks about their rights and also condemns use of child labor. Organizer of the celebration says May Day is celebration of worker’s victory for their legitimate rights and they should continue their fights for betterment of their lives. Swati@8085084369

Posted on: May 02, 2014. Tags: Swati Raipur

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download