चाहे जितना चाहे भीगो पहली पड़ी फुहार है...कविता -

ग्राम-पाली, पोस्ट-जामु, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से शिवकुमार द्विवेदी एक कविता सुना रहे हैं:
चाहे जितना भीगो पहली पड़ी फुहार है-
बड़े दूर से थके-थके ये प्यारे बदल आये है-
झूम उठेगी सारी दुनिया इतनी मस्ती लाये है-
कभी नगाड़े से बजती है कभी चमकती है बिजली-
गोरी-गोरी नदियों में जब देय चमकती है उजड़ी-
जहाँ-जहाँ तक नजरे जाती पानी का संसार है...

Posted on: Oct 16, 2017. Tags: SHIVKUMAR DWIVEDI

सूरज की किरणे आती है, सारी कलियाँ खिल जाती है...कविता

ग्राम-पाली, जिला-रीवा (म.प्र.) से शिवकुमार द्विवेदी एक कविता सुना रहे है:
सूरज की किरणे आती है सारी कलियाँ खिल जाती है-
अंधकार सब खो जाता है सब जग सुन्दर हो जाता है-
चिड़िया गाती है मिलजुलकर बहते उनके मीठे स्वर-
ठंडी-ठंडी हवा सुहानी चलती है जैसे मस्तानी-
नयी ताजगी नयी कहानी नया जोश पाते है प्राणी-
सुबह गर्मी लगती है जिनको मेहनत प्यारी लगती उनको-
मेहनत सबसे अच्छा गुण आलस बहुत बड़ा दुर्गुण है...

Posted on: Sep 23, 2017. Tags: SHIVKUMAR DWIVEDI

चला गौरी तोहका, बजरिया घुमाय दे...बघेली गीत

ग्राम-पाली, पोस्ट-जामुह, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से शिव कुमार द्विवेदी बघेलखंडी भाषा में एक गीत सुना रहे है :
चला गौरी तोहका, बजरिया घुमाय दे-
घुमत बनिना तो, घुमत बताई दे-
हार बनवाई दे, चेन दिलवाई दे-
पहिनत बनिना तो, पहिन के बताई दे-
चला गौरी तोहका, बजरिया घुमाय दे-
होटल देखाई दे, बजरिया घुमाय दे-
चुनरी देवाई दे, साड़ी देवाई दे...

Posted on: May 14, 2017. Tags: SHIVKUMAR DWIVEDI

मैं दृष्टिहीन हूँ, मेरी नौकरी एक 55 वर्ष के व्यक्ति को दे दी गयी है, कृपया मेरा अधिकार दिलाएं...

ग्राम- पाली, पोस्ट-जामु, थाना- बैकुंठपुर, जिला-रीवा (मध्यप्रदेश) से शिव कुमार द्वेदी दृष्टिहीन हैं इनका कहना है, कि राज्य शिक्षा केंद्र के द्वारा एन.जी.ओ.चलाया जाता है जहां इनको चौकीदार के पद पर रखा गया था लेकिन अब 55 वर्ष के एक व्यक्ति को उनकी जगह नियुक्त कर दिया गया है । वे कह रहे हैं कि उन्होंने अतिथि शिक्षक की तरह भी वहां काम किया था और दृष्टिहीन होने के लिए उनके साथ भेदभाव न किया जाए इसलिए ये साथी सीजीनेट में सन्देश रिकोर्ड करा रहे हैं ताकि सीजीनेट सुनने वाले साथी अधिकारियों से बात कर के उनके अधिकार को इनको दिला सकें| सी.आर.के त्रिपाठी का मो.नं.9424354972 और सज्जन देवी वार्डन महिला का मो.नं.7898899282 है | शिव@9203767814

Posted on: Nov 20, 2016. Tags: SHIVKUMAR DWIVEDI

Blind getting discriminated in Govt posts for handicapped, alleges a blind...

Shiv Kumar Dwivedi is calling from Pali village in Sirmaur tehsil of Rewa district in Madhya Pradesh. He says he is blind and has completed his education some how. He is 31 and from a very poor family and he and his old widow mother both don’t get any social security pension. He complains that when there is any govt post for handicapped people it is not given to blind saying they can not work. If you don’t want to give us jobs then kill us, he says. How will we survive, he asks? Dwivedi@7223915730

Posted on: Jul 25, 2016. Tags: Shivkumar Dwivedi

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download