डिमक-डिमक डिम डमरू बजावै...शिव भजन

शिवांशी शंकर ,रामबाग मुजफ्फरपुर (बिहार) से एक शिव भजन सुना रही हैं:
डिमक-डिमक डिम डमरू बजावै-
उमा संग शिव कैलाश पर नाचे-
ऊं नम: शिवाय...
जटाजूट में गंग विराजे-
गले भुजंग की माला साजे-
एक हाथ में शूल लिये हो-
दूजे कर में डमरूधारी-
ऊं नम: शिवाय...
पतितों के पावन करते हो-
सुख देकर दु:ख को हरते हो-
शरणागत हूं मैं आज त्रिपुरारी-
सदा रहो मेरे डमरूधारी-
ऊं नम: शिवाय...

Posted on: Jul 28, 2016. Tags: Shivansi Shankar

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download