रे रे रेला रे रे रेला राला रे रेला...गोंडी गीत -

ग्राम-गुडेफल, पंचायत-दमकसा, ब्लाक-दुर्गकोंदल, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से सविता और करिशमा एक गोंडी गीत सुना रही है:
रे रे रेला रे रे रेला राला रे रेला-
साय रेला रे रेला साय रेला रे रेला-
एन्देना गर्सेना नाटे गुटुक वायेना-
साय रेला रे रेला साय रेला रे रेला...

Posted on: Jan 21, 2018. Tags: SAVITA ANDA KARISHMA

आगे-आगे बढ़ना है तो हिम्मत हारे मत बैठो...प्रेरणा गीत -

ग्राम-कुडाल, तहसील-भानुप्रतापपुर, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से सविता कुमरा एक प्रेरणा गीत सुना रही है:
आगे-आगे बढ़ना है तो हिम्मत हारे मत बैठो-
जीवन में कुछ करना है तो मन को मत हारो-
चलने वाला मंजिल पाता बैठे पीछे रहता है-
ठहरने पानी सड़ता लगता बहता निर्मल होता है-
चलो कदम से कदम मिलाकर दूर किनारे मत बैठो-
तेज दौड़ने वाला खरगोश दो पद चढ़कर हार गया-
धीरे चलता कछुवा देखो बाजी मार गया...

Posted on: Jan 09, 2018. Tags: SAVITA KUMRA

मेरे मितवा क्या है रे जग में तेरा...भजन गीत-

ग्राम-सलैयाकला, पोस्ट-सावरी बाजार, तहसील-मोहखेड़, जिला-छिन्दवाड़ा (मध्यप्रदेश) से सविता धुर्वे एक भजन सुना रही हैं :
मेरे मितवा क्या है रे जग में तेरा-
ये जीवन तो माटी का पुतला-
पानी लगे घुर जायेगा रे एक दिन-
मेरे मितवा क्या है रे जग में तेरा – ये जीवन तो कागज का पुतला-
हवा लगे उड़ जायेगा रे एक दिन-
ये जीवन तो लकड़ी का पुतला-
आग लगे जल जायेगा रे एक दिन-
ये जीवन तो कांच का पुतला-
धक्का लगे टूट जायेगा रे एक दिन...

Posted on: Sep 14, 2017. Tags: SAVITA DHURWEY

मनमोहन मुरली वाले मुरली बजाना, मथुरा में जा के कही भूल न जाना...गीत

ग्राम-सलेय्या कला, पोस्ट-सावरी बाज़ार, तहसील-मोहखेड़, जिला-छिन्दवाडा (मध्यप्रदेश) से सविता धुर्वे कान्हा गीत सुना रही हैं :
ओ कान्हा ओ कान्हा जाना नहीं ब्रज छोड़ के – मनमोहन मुरली वाले मुरली बजाना-
मथुरा में जा के कही भूल न जाना – हमने ओ निर्वाहा तुमको जान लिया – कैसे हो मन के ये पहचान लिया-
मीठी बाते कर के दिल बहलाते हो...

Posted on: Aug 30, 2017. Tags: SAVITA DHURVE

बिन मोती इमली को डार दुलहा नवे-नवे डार...विवाह गीत -

ग्राम-सलेयाकला, जिला-छिंदवाडा (मध्यप्रदेश) से सविता धुर्वे विवाह के समय गाया जाने वाला गीत सुना रही है :
बिन मोती इमली को डार दुलहा नवे-नवे डार-
तोरे पापा सुमिरत जाए दुलहा सुमिरत जाए-
तोरे आजा सुमिरत जाए दुलहा सुमिरत जाए-
तोरे काका सुमिरत जाए दुलहा सुमिरत जाए-
तोरे मामा सुमिरत जाए दुलहा सुमिरत जाए-
बिन मोती इमली को डार दुलहा नवे-नवे डार...

Posted on: May 19, 2017. Tags: SAVITA DHURWEY

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download